REWA : वैवाहिक आयोजन पर खलल : प्रतिबंध के बाद भी चोरी छिपे वैवाहिक रस्मे चालू , दूल्हा व दुल्हन के पिता समेत चार गिरफ्तार


रीवा। कोरोना कफ्र्यू में आयोजित हो रहे वैवाहिक आयोजन पर उस समय खलल पड़ गई जब अचानक पुलिस पहुंच गई। प्रतिबंध के बाद भी वैवाहिक रस्मे अदा करने पर दोनों पक्षों के चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर बारातियों के वाहनों को जब्त कर लिया है।

सीधी से आई थी बारात

मऊगंज थाने के गोंदरी शिवप्रसाद गांव निवासी रामसजीवन जायसवाल की शादी सीधी जिले के कोतवाली थाना अन्तर्गत जोरौंधा गांव निवासी दिनेश जायसवाल के बेटे के साथ तय हुई थी। विवाह की तारीख 28 अप्रैल तय हुई थी लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने वैवाहिक आयोजनों पर रोक लगा दी। इसके बाद भी दोनों परिवार बुधवार की रात वैवाहिक आयोजन अदा कर रहे थे। तीन वाहनों में करीब बीस की संख्या में बाराती गांव आए थे। उसी दौरान पुलिस को सूचना मिल गई। जैसे ही पुलिस की गाडिय़ां गांव पहुंची तो वैवाहिक आयोजन में शामिल होने आए बाराती वहां से खिसक लिये।


द्वारचार के बाद पहुंच गई पुलिस

द्वारचार के बाद आगे की रस्म अदा करने की तैयारी की जा रही थी लेकिन पुलिस ने वैवाहिक आयोजन रुकवा दिया। मौके पर मौजूद दुल्हा के पिता दिनेश जायसवाल निवासी सीधी व दुल्हान के पिता रामसजीवन जायसवाल सहित रोहित जायसवाल निवासी जोरौंधा, शिवराज विश्वकर्मा निवासी पटेहरा थाना बहरी जिला सीधी को गिरफ्तार कर लिया। चारों के खिलाफ पुलिस ने धारा 188, 269, 270, 271, 51 बी आपदा प्रबंधन के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस के लौटने के बाद अदा हुई विवाह की रस्मे, तड़के विदा हुई दुल्हन

जिस समय पुलिस पहुंची उस समय परिजनों ने दूल्हा व दुल्हन को कमरे में बंद कर दिया था जिस पर पुलिस चार लोगों को गिरफ्तार कर थाने ले आई। पुलिस के लौटने के बाद विवाह की रस्मे अदा हुई। परिवार जनों की मौजूदगी में दुल्हा व दुल्हन का विवाह हुआ और तड़के दुल्हन ससुराल के लिए विदा हो गई। जिस समय विदा हुई उस समय दोनों के पिता थाने में थे जिनको पुलिस ने सुबह जमानत मुचलका देकर छोड़ दिया।

Powered by Blogger.