REWA : आप पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रमोद शर्मा पर आधा दर्जन बदमाशों ने किया जानलेवा हमला, सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी पर लगाया आरोप

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा. आम आदमी पार्टी के ग्रामीण जिलाध्यक्ष एवं सेमरिया विधानसभा से प्रत्यासी रहें प्रमोद शर्मा पर जानलेवा हमला हुआ है. सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी पर उन्होंने हमला कराने का आरोप लगाया है.

आश्चर्यजनक बात तो यह है कि हमला के दौरान सेमरिया थाना प्रभारी की गाड़ी चंद कदम में ही खड़ी थी. लेकिन पुलिस द्वारा आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई के बजाय उल्टा प्रमोद शर्मा पर ही मामला पंजीबद्ध कर लिया गया. 

मामले को लेकर आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष एवं सेमरिया विधानसभा से प्रत्यासी रहें प्रमोद शर्मा ने बताया कि उनके ऊपर उस समय आधा दर्जन लोगों ने हमला कर दिया, जब वह अपने साथी के साथ गृह ग्राम जा रहे थे.

इस घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया. किसी तरह से जान बचाकर भागे प्रमोद शर्मा ने शोर-शराबा किया. आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तो आरोपी भाग निकले.

सबसे बड़ी बात यह कि जिस स्थान पर घटना घटित हुई उससे चंद कदम पर थाना प्रभारी की गाड़ी खड़ी हुई थी. पीडि़त के द्वारा फोन लगाया गया तो थाना प्रभारी रुकने के बजाय निकल गए. तब पीडि़त ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से पुलिस अधीक्षक को फोन से सूचना दी, जिसके बाद 100 डायल पहुंची. तब तक आरोपी भाग निकले.

पीडि़त शिकायत करने थाना पहुंचा तो जानकारी हुई कि उसके खिलाफ ही उल्टा एक्सीडेंट करने का मामला दर्ज है. हालांकि पीडि़त से भी आवेदन लेकर पुलिस ने उसका मेडिकल कराया है और जांच की बात कही है.

मिली जानकारी के अनुसार प्रमोद शर्मा बुधवार की शाम अपने परिचित शीतल शर्मा के साथ गृह ग्राम अटरिया जा रहे थे. जैसे ही सेमरिया चौराहे के पास पहुंचे पहले से ताक में खड़े आधा दर्जन लोगों ने स्कूटी को पीछे से धक्का मारा और जैसे ही स्कूटी अनियंत्रित हुई तो हमला कर दिया.

सेमरिया विधायक के लोगों ने किया हमला 

पीडि़त के मुताबिक मारपीट करने वालों में रन्नू पांडेय, संदीप द्विवेदी, योगेंद्र पांडेय और भैयन पांडेय के साथ अन्य बताए जाते हैं. श्री शर्मा ने आरोप लगाया है कि मारपीट करने वाले सेमरिया विधायक के आदमी हैं. हमले के पीछे की वजह उनके द्वारा क्षेत्र की समस्याओं को उठाते हुए सेमरिया नगर पंचायत में चल रही अवैध वसूली को बंद कराया गया था.

लगातार मिल रही थी धमकियां 

यह भी कहा कि हमला करने वाले वही लोग हैं जिनका विगत दिनों पिकअप वाहन चालक के साथ मारपीट करते हुए वीडियो वायरल हुआ था. जिसकी शिकायत दर्ज कराने के बाद वसूली बंद हो गई. इसके बाद से ही लगातार प्रमोद शर्मा को फोन और मैसेज पर धमकियां मिल रही थी. 

प्रमोद शर्मा ने बताया कि जब वह सेमरिया पहुंचे तब से ही आधा दर्जन लोग रॉड डंडा लेकर उनका पीछा कर रहे थे और मौका मिलते ही उनके ऊपर प्राणघातक हमला कर दिया.

बताया जाता है कि घटना से आक्रोशित प्रमोद शर्मा के समर्थक चौराहे पर धरना प्रदर्शन करने का प्रयास किया लेकिन वहां भी आरोपियों और उनके साथियों के द्वारा घेराबंदी की गई. जिसके बाद अपने आप को बचाते हुए वे थाना पहुंचे और शिकायत दर्ज करायी.

पूरे मामले को लेकर थाना प्रभारी डीडी पांडे ने कहा कि प्रमोद शर्मा की स्कूटी से एक्सीडेंट हुआ है, वहीं पर मारपीट हुई है. दुर्घटना का मामला दर्ज किया गया है. प्रमोद शर्मा का भी मेडिकल कराया गया है. जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

थाना प्रभारी पर भी लगाया था गंभीर आरोप

आपको बता दें कि आप नेता ने सेमरिया थाना प्रभारी के ऊपर भी गंभीर आरोप लगाया था और शिकायत की थी कि नगर पंचायत में अवैध वसूली का खेल थाना प्रभारी की शह पर चल रहा है. जिसके चलते प्रमोद शर्मा ने कहा कि साजिश के तहत उनके ऊपर हमला करवाया गया है और उल्टा मामला उनके ऊपर दर्ज किया गया है.

आप जिला अध्यक्ष ने यह भी कहा है कि आरोपियों के खिलाफ पुलिस मामला दर्ज नहीं करती तो वह गुरुवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने अनशन पर करेंगे.

Powered by Blogger.