बच्चों की सक्रियता देख पुलिस हैरान : लॉकडाउन में स्कूल हुआ बंद तो नाबालिगों ने ज्वाइन कर लिया चोर गिरोह

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

भिलाई. लॉकडाउन में स्कूल, कॉलेज बंद हैं ऐसे में कई नाबालिग (Minor boy) बच्चे चोर गैंग ज्वाइन करके बड़ी चोरियों को अंजाम दे रहे हैं। दुर्ग जिले में पुलिस ने एक महीने में जितने भी चोरियों का खुलासा किया है उसमें हर गैंग में एक नाबालिग आरोपी जरूर मिला है। लॉकडाउन (Coronavirus lockdown in Durg) मेें भिलाई में रेकी कर मोबाइल और बाइक चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी नाबालिग है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से चोरी की एक बाइक और 20 मोबाइल बरामद किया है। आरोपियों के खिलाफ धारा 41(1,4),379 के तहत जुर्म दर्ज कर कार्रवाई की।

सीएसपी विश्वास चंद्राकर ने बताया कि शनिवार व रविवार की रात को कुम्हारी टीआई एसएन सिंह टीम के साथ गश्त पर थे। उसी बीच एक बाइक पर चार युवक आते दिखे। रोकने पर बाइक लेकर भागने लगे तब टीआई ने पीछा किया। डीएमसी कटिंग के पास दबोच लिया। उरला निवासी रवि चतुर्वेदी (20 वर्ष), सुरज पुरैना (19 वर्ष), रुपेन्द्र कुमार डहरिया (19 वर्ष) और नाबालिग बालक को गिरफ्तार किया। चारों आरोपियों से जब बाइक के दस्तावेज मांगा गया तो वे दिखा नहीं पाए। बाद में जब चारों से जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो बाइक और 20 मोबाइल चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों के कब्जे से मोबाइल और बाइक बरामद किया। चारों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

जिला स्तरीय गिरोह का पर्दाफाश

टीआई एसएन सिंह ने बताया कि चारों आरोपी रायपुर उरला के रहने वाले है। मौज मस्ती और नशा की पूर्ति के लिए चोरी का रास्ता चुना। लॉकडाउन में भिलाई क्षेत्र में आकर रैकी करते थे। सड़क किनारे खड़ी कार से मोबाइल चोरी भाग जाते थे। पकड़े जाने पर चारों आरोपियों की जेब से मोबाइल बरामद किया। इसमें 23 स्मार्ट मोबाइल और 1 की- पैड मोबाइल है।

रैकी कर सूने मकान में करते थे चोरी, नाबालिग समेत तीन आरोपी गिरफ्तार

लॉकडाउन में रैकी कर सूने मकान में चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले नाबालिग समेत तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे 6 गैस सिलेंडर, एक एलईडी टीवी, डेढ़ लाख के सोने-चांदी के जेवरात बरामद किया। आरोपियों के खिलाफ 380, 457 के तहत जुर्म दर्ज कर कार्रवाई की। सीएसपी विवेक शुक्ला ने बताया कि लॉकडाउन में चोरियां बढ़ गई थी। संदेहियों पर नजर रखने टीम को अलर्ट किया। मोहननगर टीआई बृजेश कुशवाहा टीम के साथ उरला क्षेत्र में पेट्रोलिंग कर रहे थे। जहां उरला क्षेत्र में तीन संदेही मिले। पकड़कर पूछताछ की गई। आरोपी उरला बांबे आवास निवासी चंदू लहरे उर्फ कालू (18 वर्ष), सचिन यादव (25 वर्ष) और एक नाबालिक से पूछताछ की गई। आरोपियों के निशानदेही पर 6 सिलेडर, एलईडी टीवी और डेढ़ लाख कीमत की सोने-चांदी बरामद किया गया।

ऐसे पकड़ाया गिरोह

टीआई बृजेश कुशवाहा ने बताया कि उक्त आरोपी पूर्व में भी चोरी के मामले में जेल जा चुके है। इस लॉकडाउन में गिरोह बनाकर चोरी करने शुरु किया। सूने मकानों की रैकी करते थे। इसके बाद चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। चोरी के मशरुका को बेचने के फिराक में ग्राहक तलाश रहे थे। इसी बीच सूचना मिली। उरला क्षेत्र में ही आरोपियों को दबोच लिया गया।

Powered by Blogger.