REWA : कमिश्नर एवं कलेक्टर घर- घर जाकर लोगों को कर रहें जागरूक : कोरोना कर्फ्यू का सुनिश्चित कराए पालन

रीवा। संभाग के कमिश्नर अनिल सुचारी ने सीधी जिले के विभिन्ना्‌ा ग्रामों का भ्रमण कर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के उपायों का अवलोकन किया तथा किल कोरोना अभियान के तहत किए जा रहे सर्वे कार्य के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान कमिश्नर श्री सुचारी ने निर्देश दिए कि जिले में कोरोना कर्फ्यू का पालन सुनिश्चित कराते हुए लोगों को घर में ही रहने की समझाइस दें। कोरोना कर्फ्यू के कारण ही संक्रमण के दर में निरंतर कमी हो रही है। आम जन के सहयोग से कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ कर कोरोना के खिलाफ युद्ध में सफलता मिलेगी। कमिश्नर ने भ्रमण के दौरान किल कोरोना अभियान के विषय में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिए कि घर-घर जाकर संक्रमितों की पहचान की जाए। 

उन्होने ग्रामीण क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी के सक्रिय करने पर बल दिया तथा कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने में इनको आगे आकर काम करते हुए लोगों को जागरूक करना होगा। कमिश्नर ने रामपुर नैकिन विकासखण्ड के रेड जोन की ग्राम पंचायतों पड़खुरी 587 (एक्टिव केस 19) तथा पड़खुरी 588 (एक्टिव केस 15) के विषय में जानकारी ली। उपस्थित अधिकारियों ने बताया कि विकासखण्ड रामपुर नैकिन की 90 ग्राम पंचायतों में से 40 ग्राम पंचायतों में कोरोना संक्रमित व्यक्ति हैं जिनमें से 5 ग्राम पंचायतें रेड जोन में तथा 2 आरेंज जोन में हैं। विकासखण्ड में संक्रमण की स्थिति में कमी आई है, पिछले 15 दिनों में 28 ग्राम पंचायतें संक्रमण मुक्त हुई हैं।

कमिश्नर ने किया कोविड केयर सेंटर का भ्रमण

कमिश्नर श्री सुचारी द्वारा कोविड केयर सेंटर मधुरी का भ्रमण किया गया। यहॉ 100 विस्तर का सेंटर है जिसमें ऐसे कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को रखा जाएगा जिनके घरों में होम आईसोलेशन की सुविधा नहीं हैं। उन्हें किसी भी प्रकार की गंभीर समस्या नहीं हैं। अभी तक सेंटर में 28 मरीज भर्ती हुए थे वर्तमान में केवल 3 मरीज ही भर्ती हैं। सेंटर में 24 घंटे डॉक्टरों एवं नर्सिग स्टाफ उपस्थित रहता है तथा मरीज को किसी भी प्रकार की गंभीर समस्या होने पर तत्काल जिला चिकित्सालय के लिए रेफर किया जाता है। कमिश्नर द्वारा समस्त स्टाफ को प्रोत्साहित किया गया कि अच्छे सेवा भाव से लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाए।

मेडिकल किट का वितरण

भ्रमण के दौरान कलेक्टर सीधी रवींद्र कुमार चौधरी ने बताया कि किल कोरोना अभियान के लिए जिले में 1121 प्रायमरी सर्वे टीम तथा 402 सुपरवाईजर सर्वे टीम बनाई गई हैं। 13 मई तक एक लाख 82 हजार से अधिक घरों के सर्वे का कार्य किया जा चुका है। 2 हजार 781 व्यक्ति सर्दी, खांसी, बुखार से ग्रसित पाए गए, सभी को मेडिकल किट का वितरण किया गया है। 219 व्यक्तियों को कोविड जांच के लिए फीवर क्लीनिक रेफर किया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार हो रहा है। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत आर के शुक्ला, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजुलता पटले, संबंधित एसडीएम सहित राजस्व, पंचायत विभाग, पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Powered by Blogger.