महाराष्ट्र के बाद Cyclone Tauktae ने गुजरात में भी मचाई तबाही, उना समेत 17 जिलों में दिखा असर, कहीं उखड़े पेड़ तो नहीं टूटे मोबाइल टावर

नई दिल्ली। साइक्लोन तौकते ( Cyclone Tauktae ) का कहर जारी है। सोमवार रात नौ बजे चक्रवाती तूफान गुजरात के तटीय इलाकों से टकराया। मौसम विभाग ने बताया कि यह बेहद ताकतवर चक्रवाती तूफान के रूप में बदल चुका है। महाराष्‍ट्र, केरल, कर्नाटक जैसे तटीय इलाकों से टकराने के बाद तूफान ने रात करीब 9 बजे 185 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गुजरात में दस्तक दी।

गुजरात के 17 जिलों में तूफान का असर दिखा है। करीब 1000 गांव में बिजली गुल है। वहीं मुंबई में खराब मौसम की वजह से समंदर में एक जहाज डूब गया है। जहाज पर 276 लोग सवार थे, जिनमें से कई लापता हैं। वहीं कुछ छोटे जहाजों के डूबने की आशंका है।

साल के पहले चक्रवाती तूफान कहे जा रहे तौकते ( Cyclone Tauktae 2021 ) जहां से गुजरा वहां तबाही मचा डाली। गुजरात, मुंबई और गोवा समेत कई राज्यों में अपना असर दिखा चुका है।

राज्यों में तूफान की वजह जमकर तबाही देखी गई। कहीं, सड़क किनारे लगे विशालकाय पेड़ धराशाई हुए, तो कहीं लोगों ने दिनभर अंधेरे में गुजारा। फिलहाल तूफान गुजरात (Gujarat) के तटीय क्षेत्रों से टकराकर आगे बढ़ गया है। बताया जा रहा है कि अब इसकी रफ्तार भी कमजोर पड़ गई है। बीती रात सौराष्ट्र के इलाकों में लैंडफॉल का प्रक्रिया हुई। अभी भी राज्य सरकारें अलर्ट मोड पर हैं।

गुजरात में तबाही

भारत के पश्चिमी तट से उठा चक्रवाती तूफान Tauktae सोमवार को महाराष्ट्र में तबाही मचाने के बाद देर रात गुजरात के तट से टकराया। लैंडफॉल के दौरान इस तूफान की स्पीड 185 किलोमीटर प्रति घंटा रही। बताया जा रहा है कि तूफान का असर गुजरात के 17 तटीय जिलों पर पड़ा है।

उना में सबसे ज्यादा असर

उना जिले में तूफान का बड़ा असर देखने को मिला है। तूफान की वजह से कई इलाकों में पेड़ों और कम्युनिकेशन टावर टूट कर गिर गए। इसके साथ ही अमरेली, जामनगर, भावनगर आदि में भी तूफान ने काफी तबाही मचाई है।

धीमी पड़ी रफ्तार

समुद्र में तूफान की रफ्तार 185 किमी प्रति घंटा थी जो तट पर 135 किमी प्रति घंटा हो गई। वहीं पिछले 6 घंटे से यह तूफान उत्तर और उत्तर पूर्व की ओर बढ़ रहा है। जहां इसकी रफ्तार 11 किमी प्रति घंटे रह गई है।

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

दरअसल सोमवार शाम तूफान मुंबई पहुंचा। इसके बाद मुंबई हाई में एक सर्च ऑपरेशन जारी है। यहां 273 लोगों को लेकर आ रही ONGC की नौका भटक गई।

हालांकि, इस दौरान 146 लोगों को बचा लिया गया है। जबकि, 127 लोग अभी भी लापता हैं। बताया जा रहा है कि खराब मौसम के चलते रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी परेशानियां आ रही हैं।

Powered by Blogger.