CM शिवराज का प्रदेशवासियों से आग्रह :15 मई तक सब कुछ करे बंद, कड़ाई से जनता कर्फ्यू का करें पालन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


भोपाल। मुख्‍यमंत्री श‍िवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों से आग्रह किया है कि कोरोना को मारने का एक ही उपाय है संक्रमण की चेन तोड़ दो। इसलिए आज मैं आपसे आह्वान कर रहा हूं कि 15 मई तक हम सब कुछ बंद करें। कड़ाई से जनता कर्फ्यू का पालन करें।

सीएम शिवराज ने किल कोरोना-2 अभियान के संबंध में वीसी के माध्यम से जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से चर्चा की। उन्‍होंने अपने निवास में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम कोविड संक्रमण की रोकथाम एवं व्यवस्थाओं के संबंध में कोर ग्रुप के मंत्रीगण एवं अधिकारियों के साथ बैठक भी की।

सीएम ने कहा कि शादी-विवाह के कारण संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ जाता है। ऐसी परिस्थितियां हमें विवाह जैसे आयोजन की इजाजत नहीं देते हैं। मैं अपने सभी जनप्रतिनिधियों साथियों से आग्रह करता हूं कि मई में शादियां न हो, इसके लिए लोगों को प्रेरित करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मानवता पर संकट है, इसमें हम सबको एकजुट होकर प्रयास करना होगा। राजनीतिक मतभेदों को भुलाकर अभी कार्य करने की जरूरत है। मतभेदों पर बाद में चर्चा कर लेंगे, अभी जीवन बचाना जरूरी है।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कोविड काल में कुछ निजी अस्पतालों में इलाज का अधिक पैसा लेने की शिकायतें मिल रही हैं। ऐसे संकट के समय में जनता को लूटने वाले अस्पतालों को मैं नहीं छोड़ूंगा।

उन्‍होंने कहा कि गांव गांव में छोटी-छोटी टीम बन जाये जो विकेंद्रित तरीके से काम करें। हम भोपाल में बैठकर संक्रमण नहीं रोक सकते। इसलिये सभी का सहयोग अत्यंत आवश्यक है। जिन गांवों में पॉजिटिव केस हों वहां मनरेगा के काम भी बंद कर दिये जायें। हम अनाज देंगे जरूरतमंदों को कुछ दिन कड़ाई कर लें, संकल्प करें की हम घरों में रहेंगे। मई में कोई शादी-विवाह नहीं करेंगे। आप सभी से आग्रह है सावधानी जरूरी है। मुझे 15 मई तक आपका सहयोग चाहिए।

मुख्‍यमंत्री श‍िवराज सिंह चौहान ने बताया कि पॉजिटिविटी रेट 25 प्रतिशत तक पहुंच गई थी अब 18 प्रतिशत के करीब आ गई है। रिकवरी अगर देखें तो ये 85.13 प्रतिशत हो गई है। हमने प्रदेश में सबसे पहले जनता कर्फयू लगाया। लड़ाई विकट है, लेकिन थोड़ा थामने में हम कामयाब हुए हैं। 21 अप्रैल तक मध्यप्रदेश देश में संक्रमित राज्यों के मामले 7वें नंबर पर था। आज आपके ही सहयोग से हम 14वें नंबर पर आ गये हैं। उन्‍होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ मैं सभी प्रदेशवासियों का सहयोग चाहता हूं। ये संक्रमण से फैलने वाली बीमारी है अगर इसको हराना है तो समाज को साथ खड़ा रहना है।

Powered by Blogger.