MP : 300 रुपये मजदूरी लो, घूम-घूमकर शराब बेचो : लाकडाउन में शराब तस्करों ने अपनाया अवैध कारोबार का नया ट्रेंड


जबलपुर। रोजाना 300 रुपये मजदूरी लो और घूम घूमकर शराब बेचो। लॉकडाउन में शराब तस्करों ने अवैध कारोबार को अंजाम देने के लिए यह नया ट्रेंड अपनाया है। निर्माण कार्यों के पहिए थमने के बाद ज्यादातर मजदूर बेरोजगार घूम रहे हैं जिन्हें झांसे में लेकर शराब तस्करों ने अवैध कारोबार में उतारने की कोशिश शुरू कर दी है। अधारताल पुलिस ने शराब बेचते हुए एक युवक को पकड़ा जिसके बाद माफिया के इन मंसूबों का पता चल पाया।

इधर कोतवाली पुलिस ने एक गांजा तस्कर को पकड़ने में सफलता पाई है। कोतवाली पुलिस ने गांजा तस्करी के आरोप में मानक रद्दी की गली निवासी रामकिशन छिरा उर्फ रवि चौधरी 53 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया। उसके कब्जे से एक किलो 950 ग्राम गांजा जब्त किया गया। छिरा थैले में गांजा लेकर ग्राहक की तलाश में घूम रहा था। 

सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर छिरा को पकड़ा जा सका। वह गांजा लेकर जैन पेट्रोल पंप के पास ग्राहक की तलाश में था।

इधर, अधारताल पुलिस ने कंचनपुर निवासी अंशुल मिश्रा 18 वर्ष को शराब की तस्करी करते हुए पकड़ लिया। गिरफ्त में आए अंशुल ने बताया कि कंचनपुर निवासी इमरत बघेल ने शराब बेचने के लिए उसे नौकरी पर रख लिया है। 300 रुपये की दैनिक मजदूरी पर वह उक्त कार्य इमरत के लिए करता है। उसके कब्जे से 216 पाव देसी तथा आठ बोतल अंग्रेजी शराब जब्त की गई। पुलिस ने अंशुल मिश्रा एवं इमरत बघेल के विरुद्ध 34(2) आबकारी एवं 109,188 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है। इमरत बघेल की तलाश जारी है।

Powered by Blogger.