REWA : किसान व जिला प्रशासन में हुई सुलह / अब रात 11 बजे से 2 बजे तक लगेगी सब्जी मंडी, किसान थोक व्यापारी को तो फुटकर व्यापारी ठेलों से कराएंगे बिक्री

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। कोरोना आपदा के कारण खेतों में सड़ रही सब्जियों को लेकर एक महीने से चल रहे विरोध के बाद आखिरकार किसानों व जिला प्रशासन में सुलह हो गई है। यहां बता दें कि अप्रैल की शुरुआत में कोरोना संक्रमण बढ़ते ही जिला प्रशासन ने रीवा शहर की करहिया मंडी में किसानों के आने पर पाबंदी लगा दी थी। प्रशासन का कहना था कि सब्जी मंडी में ही सबसे ज्यादा नियमों की अनदेखी होती है।

साथ ही सोशल डिस्टें​सिंग का पालन नहीं होता। ऐसे में 15 अप्रैल को लॉकडाउन की घोषणा होते ही विरोध तेज होता गया। हर दिन चोरहटा पुलिस और जिला प्रशासन सहित नगर निगम का अमला सब्जी किसानों का परेशान करता रहा। फिर भी किसान रोजाना नए अंदाज में सब्जी बेंचने जरूर पहुंचे। कोई मंडी तो कोई रोड तो कोई घर से ही सब्जी बेंचने का क्रम चलता रहा।

1 लाख हेक्टेयर में लगी सब्जी से 75 हजार किसान प्रभावित

सब्जी किसानों का आरोप था कि 1 लाख हेक्टेयर में लगी सब्जी से 75 हजार किसान प्रभावित होंगे। ऐसे में किसान और पुलिस ने रोजाना विवाद की ​स्थितियां बनती गई। पां​च दिन एसपी के वाहन से उतरे आरक्षक ने जो एक सब्जी किसान को लात मारकर हवा निकाली। इसका वीडियो सोशल मीडिया में जैसे ही वायरल हुआ तो जिला से लेकर प्रदेश का पुलिस की छीछालेदर हुई। ऐसे में जिला प्रशासन बैकफुट पर आ गया। अंत में मंलवार की रात से 11 बजे से 2 बजे तक सब्जी बेंचने का मौखिक आदेश देना पड़ा। जिला प्रशासन के आदेश के मुताबिक अब सब्जी किसान थोक व्यापारी को और फुटकर व्यापारी ठेलों से बिक्री कराएंगे।

विरोध के बाद नया प्रयोग

शहर में लगातार सब्जी व्यापारियों के विरोध के बाद जिला प्रशासन ने नया प्रयोग किया है। मंगलवार की रात 11 बजे से करहिया मंडी को किसानों के लिए खो​ल दिया गया है। यह मंडी रात में 2 बजे तक खुली रहेगी। तीन बजते ही किसान अपने घर चले जाएंगे। बताया गया है कि यह मंडी थोक व्यापारियों के लिए खोली गई है। आम जनों का प्रवेश निषेध रहेगा। किसानों से थोक विक्रेता सब्जी लेंगे। इसके बाद फुटकर व्यापारियों को बेंचकर ठेलों के माध्यम से बिक्री कराएंगे। जानकारी के मुताबिक मंगलवार की रात 11 बजे के बाद किसान सब्जी लेकर पहुंचना शुरू हो गए थे। जहां रात 2 बजे तक भारी संख्या में पुलिस बल और जिला प्रशासन के जिम्मेदार मौजूद रहे।

Powered by Blogger.