GOOD NEWS : ऑनलाइन पढ़ाई कर रीवा सैनिक स्कूल से 10 छात्रों का NDA और नेवल एकेडमी में हुआ चयन : देखें चयन लिस्ट

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई कर रीवा सैनिक स्कूल से 10 छात्रों का चयन एनडीए और नेवल एकेडमी में हुआ है। जब पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। तब मध्यप्रदेश के इकलौते सैनिक स्कूल से अच्छी खबर सामने आई। अगर बीते कई वर्षों के आंकड़े की बात करें तो हर साल औसतन 10 छात्र सैन्य अधिकारी बनते आ रहे हैं, ​लेकिन कोरोना महामारी के बाद भी सैनिक स्कूल के छात्रों का रिकाॅर्ड बरकरार रहा है।

सैनिक स्कूल के प्रवक्ता रजनीश ने बताया कि डिफेंस एकेडमी व नेवल एकेडमी की परीक्षा के परिणाम 30 अप्रैल 2021 को जारी हुए थे। जहां कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मजबूत मानसिकता व दृढ़ निश्चय के साथ छात्रों ने विभिन्न चरणों की परीक्षा में शामिल होकर ​विद्यालय को गौरवान्वित किया है। इस सफलता पर कर्नल राजेश बेंदा ने विद्यालय परिवार की ओर से उज्जवल भविष्य की कामना ​की है।

30 अप्रैल के रिजल्ट, 8 जून को सूची
सैनिक स्कूल के प्राचार्य ने बताया कि राज्य के एक मात्र सैनिक स्कूल के 10 छात्रों का चयन नेशनल डिफेंस एकेडमी व नेवल एकेडमी में हुआ है। इसका परिणाम 30 अप्रैल को ही आ गया था। हालांकि सोशल मीडिया में 8 जून को चयनित छात्रों की सूचना वायरल हुई है। एनडीए बैच के लिए कुल 60 छात्रों का चयन हुआ था, जिसमें 19 छात्र रिटर्न क्वालीफाई किए थे। फिर मेडिकल सहित अन्य कागजी कार्रवाई पूर्ण होने के बाद 10 छात्रों का चयन वर्ष 2020-2021 के लिए किया गया।

हर छात्र का सपना होता है कि रीवा में मिल जाए एडमिशन
रीवा सैनिक स्कूल में प्रवेश लेने वाले हर छात्र का सपना होता है कि वह देश की रक्षा के लिए भारतीय सेना के किसी भी विभाग में चयनित हो। जिसके लिए वे जी तोड़ मेहनत भी करते हैं। पिछले एक साल से कोरोना संक्रमण से जूझ रहे सैनिक स्कूल के छात्रों ने न केवल डिफेंस व नेवल एकेडमी में प्रवेश पाया है, बल्कि साबित कर दिया है कि परिस्थितियां कैसी भी हों, यदि निष्ठा व लगन के साथ मेहनत की जाए, तो लक्ष्य हासिल करना मुश्किल नहीं है।

एक साथ चलता है 542 छात्रों का बैच
सैनिक स्कूल के प्रवक्ता ने बताया कि विद्यालय में 542 छात्रों का बैच हर साल चलता है। जहां प्रवेश परीक्षा लेकर कक्षा 6 में 80 बच्चों का एडमिशन दिया जाता है। वहीं, अगर बच्चों कि किसी कारणवश संख्या घटी, तो 9वीं में प्रवेश परीक्षा लेकर 5 से 10 बच्चों को एडमिशन दिया जाता है।

इन छात्रों का चयन हुआ
1- जय गिरिराज
2- राज वर्धन सिंह
3- उपेन्द्र सिंह गुर्जर
4- दिव्यांश सिंह
5- सुमित शुक्ला
6- प्रतीत यादव
7- सृजन सिंह परिहार
8- सत्यम सिंह
9- विक्रांत मलिक
10- आशीष तोमर

ये हैं देश के 28 सैनिक स्कूल
अमरावती नगर सैनिक स्कूल, तमिलनाडु, गोराखाल सैनिक स्कूल, उत्तराखंड, बालाचढ़ी सैनिक स्कूल, गुजरात, इंफाल सैनिक स्कूल, मणिपुर, पुरुलिया सैनिक स्कूल, पश्चिम बंगाल, भूवनेश्वर सैनिक स्कूल, उड़ीसा, खाजा खोतम सैनिक स्कूल, केरला, रीवा सैनिक स्कूल, मध्यप्रदेश, बीजापुर सैनिक स्कूल, कर्नाटक, कपूरतला सैनिक स्कूल, पंजाब, सतारा सैनिक स्कूल, महाराष्ट्र, चितौड़गढ सैनिक स्कूल, राजस्थान, कुरुकोंडा सैनिक स्कूल, आंध प्रदेश, सुजानपुर तिरा सैनिक स्कूल, हिमाचल प्रदेश, गोलपारा सैनिक स्कूल, असम, कंजपुरा सैनिक स्कूल, हरियाणा, तिलाईयां सैनिक स्कूल, झारखंड, गोपालगंज सैनिक स्कूल, बिहार, नगरोता सैनिक स्कूल, जम्मू, पुंंगलवा सैनिक स्कूल, नागालैंड, अंबिकापुर सैनिक स्कूल, छत्तीसगढ़, रिवारी सैनिक स्कूल, हरियाणा, कोडागू सैनिक स्कूल, कर्नाटक, कालीकिरी सैनिक स्कूल ,आंध प्रदेश, लखनऊ सैनिक स्कूल, उत्तर प्रदेश, छिंगछिप सैनिक स्कूल, मिजोरम, नालंदा सैनिक स्कूल, बिहार, झुंझनू सैनिक स्कूल, राजस्थान आदि शामिल हैं।

Powered by Blogger.