REWA CORONA UPDATE : रीवा जिला में 1 जून से 7 जून के बीच में आएं 69 पॉजिटिव मरीज, एक्टिव केस सिर्फ 83 बचे

रीवा। दो महीने तक रीवा जिले में कोहराम मचाने वाले कोरोना संक्रमण से राहत की खबर है। यहां थ्री डिजिट से पॉजिटिव केस इन दिनों सिंगल डिजिट में आ गए है। 1 जून से 6 जून के बीच की बात करें तो महज 62 संक्रमित मरीज आए है। पहले दिन 1 जून को जहां 14 केस तो 2 जून को 13, 3 जून को 11, 4 जून को 9, 5 जून को 8 और 6 जून को 7 पॉजिटिव और 7 जून को 7 पॉजिटिव मिले है। वहीं जिले में अब एक्टिव केसों की संख्या महज 83 रह गई है। जबकि आज सोमवार  को 10 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने-अपने घर पहुंचे है।

सिलपरा से बेला (गोविंदगढ़ मार्ग) तक बनेगी 13 KM लंबाई की रिंग रोड : पूर्व मंत्री ने दिए निर्देश

सीएमएचओ डॉ. एमएल गुप्ता ने बताया कि रविवार को आरटी-पीसीआर के 512 सैंपल में 3 संक्रमित मरीज मिले। वहीं रैपिड एंटीजन के 719 जांच में 3 पॉजिटिव आए हैं। कुल 1231 सैंपल में 7 पॉजिटिव आए हैं। अभी तक 16381  कुल पॉजिटिव केस आ चुके हैं। जहां स्वस्थ्य होकर घर जाने वालों की संख्या 16167  है। हालांकि सरकारी रिकॉर्ड में अभी तक 131 मौतें ही हुई हैं। वहीं मृत्यु का नया प्रकरण एक आया है। कोरोना बुलेटिन में रीवा अर्बन में शून्य तो सर्वाधिक मरीज हनुमाना रायपुर कर्चुलियान में दो दो  पाए गए बाकी 3 मरीज रीवा  गंगेव  मऊगंज  मे मिले  पिछले 4 दिनों की  स्थिति को देखकर कहा जा सकता है हम बेहतर स्थिति में हैं मरीज मिले है।

जून माह में मिले केस

1 जून 14

2 जून 13

3 जून 11

4 जून 9

5 जून 8

6 जून 7

7 जून 7

कुल 69

4 लाख 23 हजार लोगों को लग चुके कोरोना टीके

रीवा जिले में 5 जून तक कोरोना वैक्सीन के 4 लाख 23 हजार 27 टीके लगाये जा चुके हैं। वहीं 5 जून के दिन 8761 टीके लगे। जबकि 5 जून तक हेल्थ वर्कर्स व फ्रंटलाइन वर्कर्स को 35 हजार 700 प्रथम डोज और 20 हजार 394 को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। अब तक 18 से 44 आयु वर्ग के 77 हजार 520 व्यक्तियों को प्रथम डोज लग चुके हैं। इसी प्रकार 45 वर्ष से अधिक आयु के 2 लाख 55 हजार 243 को टीके की प्रथम डोज तथा 34 हजार 168 को दूसरी डोज लगायी जा चुकी है। अब 18 से 44 वर्ष की आयु के व्यक्तियों को ऑनलाइन पंजीयन के साथ टीकाकरण केन्द्र में पंजीयन कराकर टीकाकरण की सुविधा दी जा रही है।

सांसद ने संजय गांधी अस्पताल के कोविड वार्ड का किया निरीक्षण

रीवा सांसद जनार्दन मिश्र रविवार को संजय गांधी अस्पताल के कोविड वार्ड का पीपीई किट पहन कर निरीक्षण किया। उन्होंने कोविड वार्ड में कोरोना संक्रमित बच्ची अंजली एवं अन्य मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। सांसद ने प्रधानमंत्री केयर फंड द्वारा भेजे गए उपकरणों के उपयोग के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर सांसद के साथ डीन डॉ. मनोज इंदुलकर और अस्पताल अधीक्षक डॉ. एसएस गर्ग उपस्थित रहे। उल्लेखनीय है कि विशेषज्ञों द्वारा व्यक्त की जा रही तीसरी लहर से बच्चों के प्रभावित होने के खतरे को देखते हुए दौरा किया है। जहां आवश्यक तैयारियों के लिए सांसद ने अस्पताल प्रबंधन से जानकारी प्राप्त की।

Powered by Blogger.