REWA : 10 किलो गांजा के साथ 2 बदमाश गिरफ्तार, मुख्य आरोपी पर NTPS एक्ट के 13 मुकदमे दर्ज

रीवा पुलिस ने पेशेवर गांजा तस्करों की गैंग को पकड़ा है। बताया गया कि मुखबिर की सूचना पर रविवार को गोविंदगढ़ पुलिस को 2 गांजा तस्करों के आने की भनक लगी थी। आनन फानन में गोविंदगढ़ थाना प्रभारी ने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देकर छुहिया घाटी आमचुआ मन्दिर के पास घेराबंदी कर दी। जैसे ही बाइक से दो लोग आते दिखे तो पुलिस ने तलाशी ली।

जहां एक बैग से 85 हजार कैश व बोरी से एक-एक किलो गांजा के पैकेट बरामद हुए है। जिसकी बाजार में अनुमानित ​कीमत 1 लाख रुपए है। पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपी पर NTPS एक्ट के 13 मुकदमे दर्ज है। जबकि गांजा की डिलवरी देने और लेने वाले दो आरोपी अभी फरार है।

गोविन्दगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक सुरेन्द्र सिंह बघेल ने बताया कि रविवार की सुबह मुखबिर ने गांजा तस्करी की सूचना दी। उसने बताया कि ग्राम चोरगड़ी थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी निवासी रामनरेश द्विवेदी अपने एक साथी के साथ गोविन्दगढ़ की ओर गया है। जो छुहिया घाटी आमचुआ मन्दिर तीन मोड़ के ऊपर पुलिया के पास खड़ा है। वह पीले रंग की बोरी में गांजा लिए किसी वाहन का इंतजार कर रहा है।

तुरंत गोविन्दगढ़ पुलिस टीम के साथ मुखबिर के बताए स्थान पर पहुंच गई। वहां पहुंचकर पुलिस ​टीम ने देखा कि दो व्यक्ति खड़े है। जिन्होंने पूछताछ में अपना नाम रामनरेश द्विवेदी पिता हीरालाल द्विवेदी (68) और हरिलाल कोल पिता राममनोहर कोल (50) दोनो निवासी चोरगड़ी थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी का होना बताये। जिसमे एक आदमी बैग तो दूसरा आदमी एक बोरी लिए था।

तलाशी में मिला रुपए व गांजा

पुलिस टीम ने संदेही लोगों की तलाशी ली तो रामनरेश द्विवेदी के बैग से 85000 रुपये मिले। जबकि पीले रंग की बोरी से टेप बंधे 10 पैकेट निकले। पैकेटों को खोलकर देखा तो गांजा निकला। जब्त 10 किलो ग्राम गांजे की कीमती करीब 1 लाख रुपए बताई गई। फिर पुलिस ने रामनरेश द्विवेदी और हरिलाल कोल के बयान लिए तो वे जुर्म स्वीकार किए। आरोपियों ने बताया कि उक्त गांजा अमित द्विवेदी और राजेश कोल दोनों निवासी चोरगड़ी थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी से गांजा खरीदना और बेंचना बताया। ऐसे में पुलिस ने धारा अपराध क्र. 263/21 धारा 8/20 (B) NDPS Act का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।

रामनरेश द्विवेदी है गांजे का मुख्य मास्टर माइंड

पुलिस ने बताया कि रामनरेश द्विवेदी गांजा तस्करी का मुख्य मास्टर माइंड है। उसके खिलाफ सीधी जिले के रामपुर नैकिन थाने में 13 NDPS Act के मामले दर्ज है। वह करीब दो दशक के गांजे के कारोबार में लिप्त रहा है। फिर भी उसको सीधी पुलिस आज तक नहीं पकड़ पाई। लेकिन रीवा जिले में कारोबार बढ़ाने से पहले ही गोविंदगढ़ पुलिस ने धर दबोचा है।

Powered by Blogger.