REWA : कालेजों में एक अगस्त से शुरू होगा प्रवेश : इस बार भी रहेगी आनलाइन प्रवेश से जुड़ी सारी प्रक्रिया

रीवा। कालेजों में प्रवेश के लिए उच्च शिक्षा विभाग ने मार्गदर्शी सिद्धांतों के साथ ही अकादमिक कैलेंडर भी जारी कर दिया है। आगामी एक अगस्त से सभी कालेजों में प्रवेश की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। यह प्रक्रिया इस बार भी आनलाइन होगी। प्रवेश की तिथियों की घोषणा पहले ही की गई थी लेकिन उसके स्वरूप के बारे में अब तक कोई दिशा निर्देश नहीं जारी किया गया था। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार ही कालेजों में प्रवेश की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। कोरोना काल की वजह से प्रवेश के दौरान गाइडलाइन का विशेष रूप से पालन करने के लिए कहा गया है। शासन ने कालेजों में प्रवेश के लिए उम्र का बंधन हटा दिया है, इसलिए किसी भी आयु वर्ग का व्यक्ति निर्धारित शर्तों को पूरा करने के बाद प्रवेश ले सकेगा। गाइडलाइन में यह भी कहा गया है कि हायर सेकंडरी के बाद कालेज में जो छात्र संकाय बदलेंगे उनके अंक पांच प्रतिशत कम करने के बाद वरीयता निर्धारित की जाएगी। प्रदेश के बाहर से हायर सेकंडरी परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों को प्रवेश के लिए संबंधित विश्वविद्यालय से पात्रता प्रमाण पत्र भी लगाना होगा। अभी शुरुआती दौर में प्रवेश प्रक्रिया के तीन चरण ही घोषित किए गए हैं। पहले और दूसरे चरण के बाद सीएलसी चरण आयोजित होगा। बीते साल आठ चरणों में प्रवेश प्रक्रिया अपनाई गई थी।

ऐसे चलेगा प्रवेश प्रक्रिया का कार्यक्रम

प्रथम चरण : यूजी कक्षाओं में प्रवेश के लिए एक से 12 अगस्त तक आनलाइन रजिस्ट्रेशन एवं विकल्प का चयन करना होगा। पीजी कक्षाओं के लिए यह अवधि एक अगस्त से सात अगस्त तक की रहेगी। दस्तावेजों के आनलाइन सत्यापन का कार्य यूजी कक्षाओं के लिए दो से 14 अगस्त एवं पीजी कक्षाओं के लिए दो से नौ अगस्त तक का समय दिया गया है। जिन छात्रों के दस्तावेज आनलाइन सत्यापित नहीं हो पाएंगे उन्हें नजदीक के हेल्प सेंटर में जाना होगा। यूजी के लिए सीट आवंटर 20 अगस्त और पीजी के लिए 14 अगस्त को निर्धारित किया गया है। प्रवेश शुल्क जमा यूजी में 20 से 25 अगस्त एवं पीजी में 14 से 19 अगस्त तक किया जा सकेगा।

द्वितीय चरण : प्रवेश के दूसरे चरण में खाली सीटों का पोर्टल पर प्रदर्शन पीजी का 21 अगस्त और यूजी का 27 अगस्त को होगा। शेष रह गए छात्रों का आनलाइन रजिस्ट्रेशन और विकल्प चयन का समय यूजी के लिए 28 अगस्त से तीन सितंबर, पीजी के लिए 22 से 28 अगस्त तक का समय निर्धारित है। दस्तावेजों का आनलाइन सत्यापन यूजी में 29 अगस्त से पांच सितंबर, पीजी में 23 से 30 अगस्त तक होगा। प्रवेशित सीटों का आवंटन यूजी में 10 सितंबर और पीजी में छह सितंबर को होगा। शुल्क भुगतान यूजी में 14 एवं पीजी में 11 सितंबर तक हो सकेगा।

सीएलसी चरण : दो चरणों के आनलाइन प्रवेश के बाद कालेज लेवल काउंसिलिंग होगी। इसमें खाली सीटों का प्रदर्शन यूजी में 16 और पीजी में 14 सितंबर को होगा। आनलाइन पंजीयन तथा विकल्प चयन यूजी में 17 से 22 सितंबर और पीजी में 15 से 20 सितंबर रहेगा। इस राउंड में भी दस्तावेजों का सत्यापन आनलाइन ही होगा। इसकी मेरिट सूची यूजी की 26 और पीजी की 25 सितंबर को जारी होगी।

एक सितंबर से शुरू होंगी कक्षाएं

उच्च शिक्षा विभाग ने अकादमिक कैलेंडर भी जारी किया है। सेमेस्टर कक्षाओं को विशेष रूप से इन्हीं के अनुसार कार्य करना होगा। एक सितंबर से कक्षाएं प्रारंभ हो जाएंगी। शैक्षणिक कार्य 15 दिसंबर तक चलेगा। 15 से 30 नवंबर के बीच प्रायोगिक परीक्षाएं होंगी। परीक्षा पूर्व तैयारी अवकाश छह से 15 दिसंबर। सेमेस्टर एवं एटीकेटी परीक्षा 16 दिसंबर से 11 जनवरी 2022 तक चलेंगी। 31 जनवरी 2022 के पहले परीक्षा परिणाम भी घोषित करने के लिए कहा गया है। इसी तरह पीजी का दूसरा सत्र 21 जनवरी से प्रारंभ होगा। जिसकी परीक्षाएं एक से 21 मई के बीच आयोजित होंगी और 30 जून 2022 के पहले परीक्षा परिणाम जारी किए जाएंगे।

शासन ने यूजीसी की गाइडलाइन के मुताबिक कालेजों में प्रवेश प्रक्रिया के साथ ही अकादमिक कैलेंडर भी जारी कर दिया है। कोरोना गाइडलाइन के अनुसार ही सारी प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

डॉ. पंकज श्रीवास्तव, अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा

Powered by Blogger.