REWA : सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल में लापरवाही देख भड़के विधायक राजेन्द्र शुक्ल, प्रबंधन को दिए सख्त निर्देश : वॉक-इन इंटरव्यू के माध्यम से पूरी करें भर्ती

रीवा। बैठक में पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल में कोरोना संकट काल में बहुत शानदार उपचार सुविधायें दी हैं। यहां व्यवस्थायें बेहतर करने के लिये इसमें रिक्त पदों की समय-सीमा में पूर्ति करायें। साल भर के लिये रिक्त पदों का विज्ञापन जारी करके उनमें वॉक-इन इंटरव्यू के माध्यम से भर्ती पूरी करें। इसमें विशेषज्ञ, सीनियर रेजिडेंट डॉक्टरों की भर्ती के लिये भी तत्काल प्रक्रिया प्रारंभ करें। अस्पताल की कार्यकारिणी समिति की शीघ्र बैठक आयोजित कर महत्वपूर्ण बिंदुओं पर तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें। 

पूर्व मंत्री ने जताई नाराजगी

पूर्व मंत्री श्री शुक्ल ने गत बैठक में भर्ती के संबंध में दिये गये निर्देशों का पालन न करने तथा अस्पताल भवन की जल निकासी व्यवस्था में सुधार कार्य शुरू न कराने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने मेडिकल कालेज के डीन को भर्ती प्रक्रिया के संबंध में तत्काल कार्यवाही करने तथा लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को जल निकासी व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। बैठक में हास्पिटल में उपकरणों की स्थापना, साफ-सफाई तथा सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में भी निर्णय लिये गये। 

कमिश्नर ने दिए आमजनों की सुविधायों के निर्देश 

बैठक में रीवा संभाग के कमिश्नर अनिल सुचारी ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल से आमजनों को श्रेष्ठ उपचार सुविधायें दें। शासन द्वारा निर्धारित मापदण्डों के अनुसार नियमों का पालन करते हुए भर्ती प्रक्रिया पूरी करें। सीनियर रेजिडेंट डॉक्टरों की नियुक्ति के लिये विभिन्न मेडिकल कालेज से संपर्क करें। भर्ती प्रक्रिया पूरी करने में गंभीरता दिखायें। बैठक में लिये गये निर्णयों का पालन सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कहा कि विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती प्रक्रिया को सरल बनायें। भर्ती के संबंध में तय समय-सीमा में कार्यवाहियां सुनिश्चित करें। मेडिकल कालेज में पोस्ट ग्रेजुएट अंतिम वर्ष में पढ़ रहे डॉक्टरों की जूनियर रेजिडेंट के रूप में भर्ती के प्रयास करें।

टूटे स्ट्रेचर देख भड़के कलेक्टर

कलेक्टर ने बैठक के पूर्व अस्पताल परिसर का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने अस्पताल के अधीक्षक को टूटे स्ट्रेचर हटाने तथा रोगियों के लिये पर्याप्त संख्या में अच्छे स्ट्रेचर तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। बैठक में मेडिकल कालेज के डीन डॉ. मनोज इंदूरकर ने अस्पताल की व्यवस्थाओं तथा भर्ती प्रक्रिया की जानकारी दी। बैठक में संजय गांधी हास्पिटल के अधीक्षक डॉ. एसडी गर्ग, सुपर स्पेशलिटी के अधीक्षक डॉ. अक्षय श्रीवास्तव, डॉ. व्हीडी त्रिपाठी तथा अन्य चिकित्सा अधिकारी उपस्थित रहे. 

Powered by Blogger.