कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके मरीजों में अब बाल झड़ने की शिकायत, पुरुषों की तुलना में ये शिकायत महिलाओं में अधिक


कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके मरीजों में अब बाल झड़ने की शिकायत आ रही है। जयारोग्य चिकित्सालय के स्किन रोग विभाग में प्रतिदिन 8 से 10 मरीज बाल झड़ने की शिकायत लेकर आ रहे हैं। जिन लोगों में यह शिकायत आ रही है उनमें पुरुषों की तुलना में महिलाओं की संख्या अधिक है।

देश के बड़े मीडिया समूह दैनिक भास्कर पर आयकर विभाग की बड़ी छापामारी, कई ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा

कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों में बाल किस कारण से गिरने की शिकायत आ रही है इसके कोई पुख्ता वजह नहीं है। कोरोना की वजह से होने वाले तनाव और चिंता भी इसकी एक वजह हो सकती है। इसके अलावा इस बीमारी से शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कोरोना वायरस से लड़ रहे मरीजों को बाल झड़ने की समस्या कुछ समय के लिए ही होगी। इसलिए मरीजों को सुझाव दिया जाता है कि वह कम से कम तनाव लें। खाने-पीने में आयरन, विटामिन -डी और दूसरे न्यूट्रिएंट्स का सेवन ज़रूर करें जो बालों की ग्रोथ को बढ़ावा देते हैं। अपनी इम्युनिटी को मजबूत बनाने के लिए योगा करें। जैसे-जैसे आप इस बीमारी को हराते जाएंगे सारी समस्याएं खुद दूर हो जाएंगी।

दूल्हे ने दुल्हन के प्रेमी को गोली मारी : मेरी होने वाली पत्नी का पीछा छोड़ दो; प्रेमी बोला- वह मुझसे प्यार करती है; दूल्हे ने फायर किया और अगले दिन लिए फेरे

गजराराजा मेडिकल कॉलेज के स्किन रोग विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. अनुभव गर्ग ने बताया कि काेरोना की दूसरी लहर में संक्रमित हुए मरीजों में ठीक होने के बाद बाल झड़ने की परेशानी आ रही है। आम दिनों में भी बाल झड़ने की शिकायत के मरीज आते थे, लेकिन महामारी के कारण उसका ट्रेंड बदल गया है। संक्रमित मरीज ठीक होने के दो से ढाई महीने बाद इसकी शिकायत लेकर आ रहा है। आमतौर पर मलेरिया, टाइफाइड एवं खून की कमी के मरीजों में इस तरह के लक्षण सामने आते थे। यह महिलाओं में पुरुषों की अपेक्षा अधिक देखने में आ रही है।

Powered by Blogger.