MP : सावन का आज पहला सोमवार : सुबह से ही दर्शनार्थियों की उमड़ी भीड़, बिना रजिस्ट्रेशन भी दर्शन कर पा रहे लोग

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सावन का आज पहला सोमवार है। मध्य प्रदेश के महाकाल और ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के अलावा मंदसौर के विश्वप्रसिद्व पशुपतिनाथ मंदिर में सुबह से ही दर्शनार्थियों की भीड़ लग गई। उज्जैन में महाकाल मंदिर के बाहर उमड़ी भक्तों की भीड़ देखकर सबके लिए प्रवेश फ्री कर दिया गया है। यहां कोरोना महामारी के कारण सावन महीने में प्री बुकिंग पर सिर्फ 5,000 लोगों को प्रवेश देना तय हुआ था। इससे पहले सिर्फ 3,500 लोगों को प्रवेश दिया जा रहा था।

कोरोना के चलते कुछ पाबंदियां लगाई गई हैं। मंदिरों में प्रवेश के लिए वैक्सिनेशन सर्टिफिकेट दिखाना होगा और मास्क लगाना होगा। इसी तरह, पशुपतिनाथ मंदिर में श्रद्धालु गर्भगृह के बाहर से ही दर्शन कर सकेंगे।

उज्जैन: महाकाल सभी को देंगे दर्शन

तड़के 3 बजे मंदिर के पट खुलने के बाद भस्म आरती हुई। आरती में आम श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं मिला। भस्म आरती के दौरान सिर्फ पंडे-पुजारी ही गर्भगृह में रहे। बाबा महाकाल का भांग और चंदन से श्रृंगार किया गया। लाइव दर्शन की व्यवस्था मंदिर प्रबंध समिति ने www.mahakaleshwar.nic.in और यू-ट्‌यूब पेज https://youtu.be/8cixmzkjfI4 पर भगवान की आरती और दिन भर दर्शन के साथ सवारी का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

महाकाल में शीघ्र दर्शन के काउंटर बंद

26 जुलाई, 02 अगस्त, 09 अगस्त, 16 अगस्त, 23 अगस्त, 30 अगस्त और 06 सितंबर को महाकाल के दर्शन सुबह 6 बजे से 11 बजे तक प्री-बुकिंग से ही होंगे। इस अवधि में 250 रुपए वाले शीघ्र दर्शन के काउंटर बंद रहेंगे।

खंडवा: भगवान ओंकार की सवारी निकलेगी

सावन के चारों रविवार और चारों सोमवार को टोकन बुकिंग के माध्यम से ही भक्त ज्योतिर्लिंग मंदिर में प्रवेश कर सकेंगे। भगवान ओंकार की पहली सवारी 26 जुलाई को निकलेगी। सावन के दूसरे सोमवार को ओंकार भगवान का महा शृंगार किया जाएगा। तीसरे सोमवार को 251 लीटर पंचामृत से कोटितीर्थ घाट पर वैदिक विद्वानों की उपस्थिति में महाभिषेक होगा। सावन के चौथे सोमवार को ओंकार जी की पालकी कोटितीर्थ घाट से नौका विहार करके ओंकार घाट पहुंचेगी। वहां से मुख्य बाजार से होते हुए ज्योतिर्लिंग मंदिर में यात्रा का समापन होगा।

वीआईपी दर्शन की इच्छा रखने वाले श्रद्धालु ऑनलाइन बुकिंग से मंगलवार से शनिवार के बीच 300 रुपए शुल्क का टिकट ले सकेंगे। बुकिंग की वेबसाइट www.shri omkareshwar.org रहेगी।

मंदसौर: पशुपतिनाथ के दर्शन बाहर से

कोरोना के चलते पशुपतिनाथ मंदिर में इस साल भी धार्मिक आयोजन नहीं होंगे। भक्त गर्भगृह के बाहर से ही दर्शन कर रहे हैं। एक समय में 5-10 लोगों को प्रवेश दे रहे हैं। भगवान की पूजा और अभिषेक मंदिर के पुजारी कर रहे हैं। जलाभिषेक की व्यवस्था बंद है। भोग प्रसादी मंदिर प्रबंधन की ओर से किया जा रहा है। भक्तों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।

Powered by Blogger.