MP : पति की प्रताड़ना से तंग आकर खुदकुशी : लव मैरिज शादी बाद 4 टेक्स्ट मैसेज कर युवती ने बयां किया अपना दर्द, शादी के पहले ही बहाना ढूंढा, मेरा यूज किया

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) इंदौर में CA की छात्रा के सुसाइड मामले में नया खुलासा हुआ है। मोबाइल जांच में खुलासा हुआ है कि युवती ने पति की प्रताड़ना से तंग आकर खुदकुशी की थी। मरने से पहले युवती ने आंटी को किए 4 टेक्स्ट मैसेज में दर्द बयां किया था। इसमें उसने लिखा कि पति सागर जेठानी और उसके भाई ने जीना दुश्वार कर दिया था। 4 दिन पहले युवती के परिवार वालों ने डीआईजी मनीष कपूरिया से शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई थी। आवेदन में सीएसपी और टीआई पर जांच में लापरवाही बरतने के आरोप भी लगाए गए हैं।

धार रोड पर रामानंद नगर में रहने वाली कल्याणी वैश्य (25) ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी थी। जांच में पता चला कि कल्याणी ने फूटी कोठी के रहने वाले सागर जेठानी से एक साल पहले खजराना मंदिर में लव मैरिज की थी, हालांकि परिवार वालों को इसका पता नहीं था।

इस कारण एक साल तक दोनों अलग-अलग रहे। सागर विजय नगर क्षेत्र में एक मॉल में टेलीकॉलिंग कंपनी में नौकरी करता है। कल्याणी भी पहले वहां नौकरी करती थी। इसी दौरान दोनों की पहचान हुई। कल्याणी के पिता जगदीश वैश्य ने बताया कि एक साल बाद उन्हें दोनों के संबंधों के बारे में पता चला। इसके बाद दोनों के परिवार वाले भी सामाजिक तौर पर दोबारा शादी कराने के लिए राजी हो गए।

15 अप्रैल को होनी थी शादी

परिवार वालों ने 15 अप्रैल दोनों की शादी की तारीख तय कर दी। इसके बाद सागर और कल्याणी के बीच किसी बात को लेकर विवाद शुरू हो गए। विवाद बढ़ने पर 10 अप्रैल को सागर ने शादी से इनकार कर दिया। इसके बाद कल्याणी डिप्रेशन में चली गई। आखिरकार 28 मई को फंदे पर झूल गई।

अब पिता लगा रहा न्याय की गुहार

मामले में 3 महीने बाद भी केस दर्ज नहीं किया गया है। इस बीच उन्होंने कई बार थाने के चक्कर लगाए, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। जगदीश वैश्य ने 4 दिन पहले DIG मनीष कपूरिया से भी शिकायत की है। शिकायत में CSP और TI पर मामले में ढिलाई बरतने के आरोप लगाए हैं। पिता का आरोप है कि पुलिस 3 महीने से चक्कर लगवा रही है। पिता ने सागर जेठानी और सुमित जेठानी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मोबाइल ने किया खुलासा

सुसाइड करने के बाद पुलिस ने कल्याणी का मोबाइल जब्त कर लिया। पैटर्न लॉक होने के कारण पुलिस ने परिवार वालों को ही लॉक खुलवाने के लिए दे दिया। परिवार ने जब लॉक खुलवाया, तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। युवती ने मरने से पहले अपनी आंटी को भेजे कुछ टेक्स्ट मैसेज भेजे थे। इस मैसेज में सागर और उसके भाई पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाया था।

DIG को भी सौंपे सबूत

आवेदन में जगदीश ने सागर और उसके बड़े भाई सुमित को लेकर कल्याणी द्वारा मोबाइल पर अन्य महिला को मैसेज पर बातों की फोटो कॉपी भी सौंपी है। इसमें कई गंभीर आरोप लगे हैं। परिवार ने आवेदन में लिखा है कि जांच अधिकारी संदीप पोरवाल ने मामले में केस दर्ज होने की बात कही थी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई, तो टीआई योगेश सिंह तोमर से मिले। उन्होंने CSP बीपीएस परिहार के दबाव में केस दर्ज नहीं होने की बात कही।

आंटी को भेजे 4 मैसेज में ये लिखा...

पहला मैसेज

सागर जेठानी मेरे मरने का कारण है। उसके भाई सुमित ने हमारा रिश्ता खत्म करा दिया। मेरे माफी मांगने और गिड़गिड़ाने के बाद भी नहीं सुनी। शादी के पहले ही वह मना करने लग गए थे, जिससे मैं नाराज थी। मैंने और सागर ने बात संभाल ली। जिस दिन हम मिले थे, उस दिन वह शादी तोड़ रहे थे, इसलिए हमारी लड़ाई हुई थी। समझाने के बाद भी उन्होंने शादी तोड़ दी। बहुत साल के रिलेशन में होने के बाद शादी से मना कर दिया। हमारी पहले भी लड़ाई हुई थी। इस समय उन्होंने जैसे रखा, मैं साथ थी।

दूसरा मैसेज

जब ऑफिस आ जाया करते थे, उनके दोस्त के घर भी मिले। उन्होंने मंदिर से शादी की रस्म भी रखी थी। उनके परिवार को मैंने बताया कि आप मेरे फोन की रिकॉर्डिंग और मैसेज चेक कर सकते हैं। मेरे पिता को यह सब नहीं पता था। मैं किसी की इज्जत के साथ खेलना नहीं चाहती थी। मेरी फैमिली वालों को भी दोनों ने परेशान कर दिया। शादी नहीं करेंगे। मुझे मानसिक तौर पर तोड़कर रहेंगे। दोनों ने मुझे कहीं का नहीं छोड़ा। मैं किसी को मुंह नहीं दिखा पा रही, इसलिए ये कदम उठा रही हूं। मुझे मेरे कर्मों की सजा मिली। जिस लड़के में पूरी दुनिया देखी, शादी फिर से होने के बाद पता चला कि वो सिर्फ मेरा यूज कर रहा था। पति बनकर अब मुझे अपनाने से इनकार कर रहे हैं।

तीसरा मैसेज

मेरी लाइफ में सिर्फ एक पति और कोई नहीं, पर वो उसे नहीं समझ पाए। उसे वह नहीं समझ पाया। मुझे लग रहा है ******* मतलब निकल गया। शादी टूटने के बाद तक मैं उनके साथ थी, लेकिन मैंने ****** बात नहीं मानी, तो गुस्सा हो गए। आप मेरे लॉस्ट मैसेज के तौर पर यूज कीजिएगा। मैं नहीं रहूंगी, तो वह गंदे इल्जाम लगाएंगे। माता-पिता की इज्जत को बनाए रखना। मैं गलत लड़की नही हूं। मैंने यह गलती की है, उस इंसान को सबकुछ मान बैठी। मेरी कुछ सेंविग है, जो मम्मी-पापा और सिस्टर के नाम करवा देना।

चौथा मैसेज

जान है, वो ले गया। उसे तो कोई फर्क भी नहीं पड़ा। उसने सब करने से पहले भाई से पूछा था, जो शादी नहीं करने और मुझे जलील होते हुआ देखता रहा। उसके पास भी रिकॉर्डिंग मिल जाएगी। इनकी छोटी सोच के कारण लड़कियां यह कदम उठाती हैं। इन जैसे दंरिदे जब सब करते हैं, तब अच्छा होता है। शादी के पहले ही बहाना ढूंढ लेते हैं, पर मैं यह भी नहीं चाहती कि उनकी लाइफ खराब हो। मेरे कारण माता-पिता की बदनामी हो जाएगी। उसका जिम्मेदार सागर है। मैं यह सब किसी को नहीं बता पा रही। ना ही किसी से शेयर कर पा रही हूं। मेरे पास ऑप्शन नहीं है।

अब टीआई बोले- केस दर्ज करवा रहा हूं

मामले में जब टीआई योगेश तोमर से बात की गई, तो उन्होंने बताया कि मोबाइल में कुछ सुराग मिले हैं। परिवार से बात की है। केस दर्ज करने के लिए परिवार को थाने बुलाया गया है।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.