MP : अगले 24 घंटे तक भोपाल, उज्जैन, सागर, रीवा समेत इन जगहों में मूसलधार बारिश की चेतावनी

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

दक्षिणी उत्तर प्रदेश में लो प्रेशर एरिया के सक्रिय होने से मध्यप्रदेश में तेज बारिश हो रही है। ग्वालियर-चंबल के इलाकों में सबसे ज्यादा बारिश होने के कारण पार्वती, कूनो, क्वारी और सिंध नदी उफान पर हैं, जिससे यहां बाढ़ आ गई है। अगले 24 घंटों में भी ग्वालियर, चंबल, भोपाल और उज्जैन बारिश से राहत की उम्मीद नहीं है।

मौसम विभाग ने 24 घंटों के दौरान इन इलाकों में भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। इसके साथ ही छतरपुर, टीकमगढ़, सागर, निवाड़ी और होशंगाबाद में भी बारिश होगी। पिछले 24 घंटे में ग्वालियर-चंबल संभाग में ही सबसे ज्यादा बारिश हुई है।

24 घंटे में प्रदेश में बारिश की स्थिति

दतिया में 5 इंच, श्योपुरकलां 4.5 इंच, गुना 4 इंच, टीकमगढ़ 3.5 इंच, नौगांव 3 इंच, पचमढ़ी 2.5 इंच, ग्वालियर 2 इंच, भोपाल सिटी 2 इंच, शाजापुर 2 इंच बारिश हुई है। वहीं नरसिंहपुर में 2 इंच, खजुराहो 1.5 इंच, रायसेन 1.5 इंच, सतना 1 इंच, उज्जैैन 1 इंच, जबलपुर 1 इंच, होशंगाबाद 1 इंच, और दतिया 5 इंच पानी गिरा।

मौसम एक्सपर्ट के अनुसार वर्तमान में दक्षिणी उत्तर प्रदेश के साथ ही कम दबाव का क्षेत्र हरियाणा पर भी बना हुआ है। इन दोनों से होकर टर्फ लाइन गुजरते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। इस कारण मध्यप्रदेश के उत्तरी हिस्से ग्वालियर, चंबल, भोपाल, उज्जैन, सागर, रीवा संभाग में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है, हालांकि इंदौर को रिमझिम से ही संतोष करना पड़ेगा।

शिवपुरी के पोहरी में उन लोगों को पहले निकालने के लिए टारगेट किया जा रहा है, जिनके घरों में पानी भर गया है या रहने लायक स्थिति में नहीं हैं।

शिवपुरी के पोहरी में उन लोगों को पहले निकालने के लिए टारगेट किया जा रहा है, जिनके घरों में पानी भर गया है या रहने लायक स्थिति में नहीं हैं।

अगले 24 घंटे में कहां कैसा रहेगा मौसम

रेड अलर्ट : ग्वालियर और चंबल संभाग में कुछ स्थानों पर।

ऑरेंज अलर्ट : उज्जैन, भोपाल संभाग के साथ ही छतरपुर, टीकमगढ़, सागर, निवाड़ी, होशंगाबाद जिले के कुछ स्थानों पर।

रिमझिम बारिश : जबलपुर, सागर, रीवा, भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन, इंदौर, ग्वालियर और चंबल संभाग में ज्यादातर स्थानों पर।

अब तक सीधी जिले में सबसे ज्यादा बारिश

पूरे प्रदेश में इस सीजन बारिश की स्थिति देखें तो सबसे ज्यादा भीगने वाला जिला सीधी है। यहां पर अब तक औसत बारिश 406 मिमी होनी थी, लेकिन बारिश का आंकड़ा 768 मिमी पहुंच गया है। यह 89% ज्यादा है। इसके बाद शाजापुर जिले में 85% ज्यादा बारिश हुई है। 343 के मुकाबले यहां पर 636 मिमी बारिश हो चुकी है। बारिश में सबसे खराब हालत खरगोन और दमोह की है। यहां औसत से 33% कम बारिश हुई है। यहां पर अब तक औसत बारिश 360 मिमी होनी थी, लेकिन 242 मिमी ही बारिश हुई है। दमोह में अब तक 335 बारिश हुई है, जबकि औसत बारिश 501 हो जानी चाहिए थी। यह औसत से 33% कम है।

Powered by Blogger.