REWA : शहर से लेकर गांव तक मनाया गया रक्षाबंधन का त्योहार, बहनों ने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर दीर्घायु की कामना

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

विंध्य क्षेत्र के रीवा जिले में प्रेम व स्‍नेह का पर्व रक्षाबंधन रविवार को शहर से लेकर गांव तक धूमधाम से मनाया गया। बताया गया कि बहनों ने भाई की कलाई पर जहां एक ओर रक्षा सूत्र बांधकर दीर्घायु की कामना की। वहीं भाइयों ने भी उपहार स्वरूप बहनों को सुरक्षा का वचन दिया। कई भाईयों ने अपने समर्थ के अनुसार गिफ्ट व उपहार देते हुए त्योहार की खुशियों में शरीक हुए। राखी का त्योहार मनाने में बच्चे भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने रंग बिरंगे कपड़े पहनकर रक्षा सूत बंधवाते हुए जमकर मस्ती की।

जनता की समस्या से सांसद और विधायक बेख़बर : एक ऐसा गांव जहाँ बारिश आते ही 200 मीटर के ऐरिया में भर जाता है पानी, अति-आवश्यक कार्य होने पर ही जूता हाथ में लेकर निकलते है लोग

पं मोहन लाल द्विवेदी की मानें तो रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त सुबह 9.01 से 12.13 फिर दोपहर में 1.49 से 3.25 बजे तक अच्छा मुहूर्त रहा। हालांकि राखी शाम 6 से रात 9 बजे तक बांधी जा सकती है। ऐसे में सुबह से ही बहनों के अंदर भाईयों की कलाई में राखी बांधने का उत्साह दिखा। ज्यादातर बहनों ने भाई को चंदन लगाते हुए आरती उतारी। फिर राखी बांधते हुए मिठाई खिलाकर मुंह मीठा कराया। भाईयों ने भी बहनों को रक्षा का वचन दिया। साथ ही उपहार देकर बहनों की खुशियों को दोगुना कर दिए।

आकस्मिक चिकित्सा कक्ष के सामने बैठी नग्न महिला का वीडियो और फोटो वायरल : अचानक अस्पताल पहुँचे कमिश्नर- कलेक्टर ने चिकित्सा अधिकारियों की जमकर ली क्लास

बसें फुल, सड़कों में बढ़ा वाहनों का दबाव

रक्षाबंधन के पर्व को लेकर शनिवार से ही यात्री बसें फुल नजर आई। वहीं दो पहिया और चार पहिया वाहनों के कारण सड़कों में वाहनों का दबाव पहले के दिनों की अपेक्षा ज्यादा दिखा। रविवार की सुबह से सड़कों में चलना मुश्किल था। हर वाहन में कहीं बहन भाई के घर तो कहीं भाई बहन के घर आते जाते दिखे। वहीं दुकानों में राखी व मिठाई खरीदने वालों की भीड़ देखी गई। जबकि कई लोग डाक से राखी न पहुंच पाने के कारण ऑनलाइन होकर राखी बधवाते हुए देखे गए।

सेल्फी लेने के लिए 315 बोर का कट्टा लेकर स्कूल पहुँचा छात्र, दहशत में आये स्टूडेंट्स और शिक्षक : कट्टा जब्त कर मामला दर्ज

एक दिन पहले उमड़ी थी बाजार में भीड़

रक्षाबंधन के त्योहार के एक दिन पहले शहर के मुख्य बाजार गुलजार रहा। ज्यादातर बहनें नई बरायटी की राखी खरीदते दिखी तो कई लोग मीठा, लड्डू, पेड़ा, पकवान आदि खरीदने के लिए बाजार पहुंचे। मुख्य चौक चौराहों पर इस कदर भीड़ उमड़ी की कहीं पैर रखने के लिए स्थान तक नहीं मिला। हालांकि चौराहों पर पुलिस के जवान तो दिखे पर भीड़ के आगे बेबस नजर आए। दोपहर से रात तक कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उड़ती रही। पर बाजार पहुंचने वाले लोगों में महामारी का भय नहीं दिखा।

Powered by Blogger.