MP : एसपी का गुंडों से वन टू वन : फेसबुक सहित अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सांप्रदायिक माहौल खराब करने वालों की बनेगी गुंडा फाइल

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

एसपी राहुल कुमार लोढ़ा इन दिनो अलग-अलग थानों का निरीक्षण कर गुंडों से वन टू वन बातचीत कर रहे हैं। उनसे पूछा जा रहा है कि कैसे बने गुंडा। अब यह काम छोड़ दो नहीं तो पुलिस नहीं छोड़ेगी। साथ ही एसपी सभी थानों में नई पहल करने जा रहे हैं। वह यह कि अब तक थानों में गुंडा फाइल ही बनती रही है, लेकिन अब बुरहानपुर पुलिस सांप्रदायिक गुंडा फाइल तैयार करेगी। जिसमें ऐसे लोगों को शामिल किया जाएगा जो फेसबुक सहित अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर बार-बार सांप्रदायिक माहौल खराब करने की कोशिश करते हैं। एसपी ने कहा इससे पहले गणपति नाका थाने का निरीक्षण किया गया था। सोमवार को शिकारपुरा थाने में गुंडों से वन टू वन चर्चा की गई। इसके बाद लालबाग और कोतवाली थाने के नामजद गुंडों से चर्चा करेंगे।

नए गुंडों को शामिल करने के लिए चलेगा अभियान

एसपी ने बताया गुंडा तत्वों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। प्रत्येक थाने का नामजद गुंडा तत्व कहां है। वह अभी क्या कर रहा हैं। उनसे बातचीत की जा रही है। उन पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जा रही है ताकि किसी वारदात को होने से पहले ही रोका जाए। जिन पर अपराध हैं उन्हें नई गुंडा लिस्ट में शामिल किया जाएगा।

एक गुंडे से पूछा, 24 साल में कैसे बन गया गुंडा

कुछ कम उम्र के गुंडो से बातचीत कर एसपी को आश्चर्य हुआ। एक गुंडे से पूछा तुम्हारी उम्र क्या है। उसने कहा 24 साल। एसपी बोले इतनी कम उम्र में गुंडा बन गया। उन्होंने सभी गुंडों को समझाईश दी कि यह काम छोड़ दें। अपने और अपने परिवार का ख्याल रखें।

एक्सपर्ट व्यू

यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए ठीक नहीं

संतोष देवताले, अधिवक्ता बुरहानपुर ने बताया कि सोशल मीडिया पर अपने विचार रखना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता में आता है। अगर कोई व्यक्ति इससे हटकर सांप्रदायिक टिप्पणी करता है तो उसके लिए पुलिस के पास आईपीसी की कई धाराएं हैं। उसमें कार्रवाई की जा सकती है, लेकिन उन्हें गुंडा फाइल में रखना स्वतंत्रता का हनन कहलाएगा। -

Powered by Blogger.