REWA : चूहों के कुतरने से बाणसागर नहर की कैनाल फूटी : किसानों के खेतों में पानी घुसने से धान की फसल नुकसान होने की आशंका

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में सगरा के समीप भांटी गांव से गुजरने वाली बाणसागर नहर को चूहों द्वारा कुतर देने से कैनाल फूट गई है। हालां​कि हताहत होने की खबर नहीं है। लेकिन किसानों के खेतों में पानी घुसने से धान की फसल नुकसान होने की आशंका है। क्योटी नहर के कार्यपालन यंत्री मनोज तिवारी ने बताया कि शनिवार-रविवार की देर रात मुख्य नहर फूट गई। ऐसे में आसपास के खेतों में पानी भर गया था। वहीं पास से ही बढ़ौआ नाला निकलता है। जिससे पानी को बाहर निकाला जा रहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक क्योटी मुख्य नहर के 28वें किमी. पर मिट्टी की नहर बनी है। जहां चूहों ने मिट्टी कुतरकर नहर के एक स्थान को खोखला कर दिया था। वहीं बगल में पुराना साइफन भी है। यह साइफन भी बीच से टूटा हुआ है। साथ ही बाणसागर से क्योटी नहर में 10 क्यूमेक्स पानी छोड़ा गया है। तीन-चार दिनों से पानी का दबाव झेलने के बाद मुख्य नहर खोखले हो चुके स्थान की मिट्टी पानी के साथ बह गई। जिससे बाणसागर से छोड़ा गया पानी नहर के बाहर निकलकर खेतों में भरने लगा।

सुबह 7 बजे बंद किया था पानी

जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को क्योटी नहर फूटने की जानकारी रविवार सुबह 7 बजे मिली थी। जिस पर तत्काल क्योटी नहर का पानी बंद करा दिया गया था। हालांकि सुबह नहर बंद करने के बावजूद देर रात तक पानी नहर से निकलता रहा। साथ ही मुख्य नहर के फूटने के बाद पानी नाले से होते हुए बाहर निकल गया। नाला होने से फसल को कम नुकसान हुआ है। क्योंकि नहर का पानी बढ़ौआ नाला से बाहर निकल गया है। बताया गया कि रविवार की रात 10 बजे तक नहर में पानी उतर रहा। सोमवार को नहर खाली होने के बाद सूखेगी। जिस पर मंगलवार से नहर की मरम्मत शुरू की जाएगी।

Powered by Blogger.