SATNA : एक बार फिर चर्चा में पर्वतारोही रत्नेश पांडेय : 75 बच्चों के साथ मिलकर 10 दिनों के अंदर 20,300 फीट ऊंचे माउंट यूनाम पर्वत को किया फतह

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सतना शहर के पर्वतारोही रत्नेश पांडेय एक बार फिर चर्चा में है। इस बार उन्होंने हरियाणा सरकार के स्कूली शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित माउंट यूनाम के पर्वतारोहण अभियान के तहत दिव्यांगों को हिमालय के शिखर पर चढ़ाया है। पर्वतारोहण अभियान में 25 बालक, 25 बालिका और 25 दिव्यांगजनों को मिलाकर कुल 75 बच्चों ने हिस्सा लिया था।

जिसको रत्नेश ने 10 दिनों के भीतर 20,300 फीट ऊंचे माउंट यूनाम पर्वत को सफलता पूर्वक फतह करा दिया है। 75 बच्चों के दल का नेतृत्व सतना के पर्वतारोही रत्नेश पाण्डेय और हरियाणा के शिक्षक संदीप आर्य ने किया। इस अभियान में नेशनल एडवेंचर क्लब ने आयोजक की भूमिका निभाई है।

दिव्यांग बच्चों के साथ सेल्फी लेते पर्वतारोही रत्नेश

गौरतलब है कि देश विदेश के एक दर्जन पर्वतों के शिखर पर पहुंचने वाले पर्वतारोही रत्नेश पांडेय से हरियाणा सरकार का स्कूली शिक्षा विभाग ने संपर्क किया था। रत्नेश के तजुर्बे को देखते हुए पर्वतारोहण अभियान में सम्मिलित किया। इसके बाद चंडीगढ़ में बच्चों के लिए छोटा का ट्रेनिंग प्रोगाम रखकर हौसला अफजाई की। मेडिकल ​चेकअप के बाद 30 सितंबर को दल चंडीगढ़ से मनाली के लिए रवाना हुआ। इसके बाद 1 अक्टूबर से हिमालय की चढ़ाई की शुरुआत हुई। 75 सदस्यीय दल 6 अक्टूबर को माउंट यूनाम पर्वत पर पहुंचकर भारत का तिरंगा लहराया। इसके बाद 10 अक्टूबर तक पर्वतारोहण दल यात्रा पूरी कर हिमालय के नीचे उतर आया।

रत्नेश के लिए अहिंसा दिवस है खास

मीडिया से बातचीत में रत्नेश पांडेय ने बताया कि बीते वर्ष 2020 के अहिंसा दिवस पर 25 किन्नरों के ​दल को हिमालय के शिखर पर चढ़ाया था। इस वर्ष 2021 में 25 ​दिव्यांगों को सफलता पूर्वक पर्वतारोहण कराया है। इस अनूठे प्रयास को मार्गदर्शन और दिशा देने के लिए रत्नेश पांडेय ने हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और स्कूल शिक्षा विभाग का धन्यवाद ज्ञापित किया है। कहा कि सभी सरकारों को युवाओं के बारे में सोचना चाहिए। इस तरह के प्रयास से युवाओं के जीवन में नए मार्ग खुलते हैं।

शिखर पर मनाया आजादी के 75वें अमृत महोत्सव

इस वर्ष केंद्र सरकार के निर्देश पर राज्य सरकारों ने आजादी के 75वें अमृत महोत्सव पर विविध कार्यक्रम आयोजित किए थे। ऐसे में ​हरियाणा सरकार के 75 जांबाज बच्चों ने न केवल 20,300 फीट ऊंचे माउंट यूनाम पर सफलतापूर्वक चढ़ाई पूरी की, बल्कि 75 मीटर लंबा तिरंगा भी हिमालय में लहराया है। साथ ही राष्ट्रगान गाकर इस अभियान को ऐतिहासिक बनाते हुए देश के बच्चों का नया संदेश दिया है। ​हरियाणा सरकार द्वारा सबसे ऊंची 10 चोटियों को फतह करने वाले बच्चों ​के लिए 5 लाख की इनाम राशि घोषित की है।

Powered by Blogger.