MP : ऑनलाइन सेवाओं का लाभ लेने में प्रदेश का रीवा जिला सबसे टॉप : सबसे ज्यादा मूल निवास के आवेदन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

भोपाल। सरकार में काम-काज का तरीका धीरे-धीरे बदल रहा है, लोगों को ऑनलाइन वर्किंग भी पसंद आ रही है। घर बैठे सुविधाओं का लाभ लेने वालों की भी कमी नहीं है। राज्य की ई-डिस्ट्रिक ऐसी ही सेवा है जिसमें लोग घर बैठे विभिन्न सेवाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं। कोरोनाकाल में की बात करें तो सवा साल में इस सेवा का सर्वाधिक एक करोड़ 14 लाख 44 हजार से अधिक लोगों ने इसका लाभ लिया। ऑनलाइन सेवाओं का लाभ लेने में प्रदेश का रीवा जिला टॉप में है, जबकि सागर दूसरे नम्बर पर है।

पिछड़ा वर्ग के लोग ज्यादा सक्रिय 

पिछले डेढ़ साल में ई-डिस्ट्रिट पोर्टल का लाभ लेने वालों में जातिगत आधार पर देखा जाए तो पिछड़ा वर्ग के लोगे अधिक सक्रिय रहे। इन वर्ग के 52 लाख 58 हजार 230 लोगों ने ऑनलाइन आवेदन किया। जबकि अनुसूचिज जाति के 24 लाख 77 हजार 861 और अनुसूचित जनजाति के 21 लाख 94 हजार 834 लोग शामिल रहे। सामान्य वर्ग से 12 लाख 28 हजार 151 लोगों ने ई-डिस्ट्रिक पोर्टल की सेवाओं का लाभ लिया।

सेवा लेने वाले टॉप टेन जिले 

रीवा - 467553

सागर - 407719

इंदौर - 400624

सतना - 395872

भोपाल - 386899

छिंदवाड़ा - 366713

जबलपुर - 352015

ग्वालियर - 351843

सिवनी - 312088

भिण्ड - 299102

इस तरह आए प्रमुख सेवाओं के आवेदन 

मूल निवास प्रमाण पत्र - 3066769

आय प्रमाण पत्र - 2832193

एससी, एसटी के लिए जाति प्रमाण पत्र - 439742

नामांतरण - 409866

राजस्व प्रकरण, नक्शा इत्यादि - 397963

ओबीसी के लिए जाति प्रमाण पत्र - 393712

खसरा, खतौनी की नकल - 338528

निर्माण श्रमिकों का पंजीयन - 253165

गरीबी रेखा के नीचे परिवारों की सूची में नाम जोडऩा (नगरीय क्षेत्र)- 140406

विवाह पंजीयन - 33720

Powered by Blogger.