REWA : NH 30 के किनारे उमरी गांव में खड़े ट्रक की रखवाली करने वाले खलासी को चाकू से गोदा : पानी में गिरने से मौत, FSL यूनिट ने जुटाए अहम साक्ष्य

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में ट्रक के खलासी को चाकू से गोदा गया। बदमाशों से जान बचाने के लिए खलासी भागा तो पानी में गिरने से मौत हो गई। घटना चोरहटा थाना इलाके के उमरी गांव की है। खलासी हाईवे के किनारे खड़े ट्रक की रखवाली कर रहा था। चालक अपने गांव श्राद्ध खाने चला गया। आशंका है कि लूट के इरादे से उसकी हत्या की गई।

सुबह ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची चोरहटा पुलिस ने आला अधिकारियों को हत्या के बारे में अवगत कराया। वारदात को संदिग्ध मानते हुए FSL यूनिट ने अहम साक्ष्य जुटाए हैं।

चोरहटा थाना प्रभारी विद्यावारिधि तिवारी ने बताया कि ट्रक चालक संतोष केवट अपने घर में श्राद्ध होने की वजह से दो दिन पहले सिरमौर थाना क्षेत्र के दुलहरा गांव चला गया था। ऐसे में चोरहटा एनएच-30 के किनारे स्थित उमरी गांव में खड़े ट्रक की रखवाली शिवम उर्फ लाला पुत्र सौखीलाल साकेत (18) निवासी दुलहरा थाना सिरमौर कर रहा था।

शनिवार-रविवार की रात बदमाश लूट के इरादे से ट्रक में दाखिल ​हुए। उन्होंने खलासी के जांघ में चाकू के तीन घाव किए। जान बचाने के लिए युवक ट्रक से कूदकर भागा। ऐसे में कंटीले तार में फंसने के बाद खेत में भरे पानी की ओर गिर गया, जहां दम घुटने से उसकी मौत हो गई। सुबह राहगीरों से जानकारी मिलने के बाद चोरहटा पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल का निरीक्षण करने पर मामला संदिग्ध दिखा। ऐसे में वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देकर एफएसएल यूनिट को मौके पर बुलाया गया। फॉरेंसिक टीम ने घटना के साक्ष्य जुटाए हैं।

20 फीट दूर खेत में मिला शव

वरिष्ठ वै​ज्ञानिक अधिकारी डॉ. आरपी शुक्ला ने बताया कि खलासी का शव ट्रक से 20 फीट दूर खेत में मिला। ऐसा माना जा रहा है कि ट्रक के अंदर ही उस पर चाकू से प्रहार किया गया। वह जान बचाकर भागा और खेत में गिर गया। खेत में पानी भरा था, जहां से फिर वह उठ नहीं पाया है। साथ ही ट्रक के अंदर और बाहर खून के छींटे मिले हैं। केबिन की रेग्जीन में भी चाकू से प्रहार के निशान मिले हैं।

Powered by Blogger.