MP : जल्दबाजी में शादी करने का हाल : पिता के दबाव में की शादी तो पत्नी निकली किन्नर, अब विवाह शून्य घोषित करने की मांग : 2016 में लगाया था आवेदन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


पिता के खराब स्वास्थ्य के चलते जल्दबाजी में शादी करने वाले डीडी नगर निवासी 25 वर्षीय युवक को पत्नी से छुटकारा पाने में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। हालांकि, ये मामला सामान्य नहीं है। इसमें पति ने पत्नी को किन्नर बताते हुए विवाह शून्य घोषित करने की मांग की है। कोर्ट में आवेदन पेश कर दिया गया है।

दरअसल, युवक के पिता की 2014 से तबीयत ज्यादा खराब रहने लगी। घरवालों के दबाव में आकर युवक ने 1 जुलाई 2014 को शादी की। शादी के बाद युवक ने जब भी संबंध स्थापित करने का प्रयास किया, पत्नी ने कोई ना कोई बहाना बनाकर टाल दिया। कुछ समय बाद जब फिर से पति ने संबंध बनाने का प्रयास किया तो दोनों को परेशानी हुई।

इस पर पति 29 मार्च 2015 को स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास परामर्श के लिए पत्नी को लेकर पहुंचा। अल्ट्रासाउंड की जांच में इस बात का खुलासा हुआ को पत्नी के बच्चादानी ही नहीं है। ऐसे में संबंध स्थापित करना और संतान उत्पन्न करना संभव ही नहीं है। इसका खुलासा होने पर जब पत्नी से पूछताछ की तब उसने बताया कि शादी के 15 दिन पहले उसने ऑपरेशन करवाया था।

युवक ने इसकी जानकारी अपने परिजनों के साथ ससुरालजनों को भी दी। ससुरालजनों ने माफी मांगते हुए छोटी बेटी से शादी कराने की बात कही और बड़ी बेटी को मायके ले गए। लेकिन बाद में अपने वादे से मुकर गए। पत्नी से संबंध तोड़ने के लिए युवक ने न्यायालय में वर्ष 2016 में आवेदन दिया था, लेकिन गलत प्रावधान के अंतर्गत दावा पेश करने के चलते न्यायालय ने उसे स्वीकार नहीं किया और विवाह शून्य घोषित कराने के लिए आवेदन पेश करने की सलाह दी। इसी के आधार पर अब फिर से न्यायालय में आवेदन पेश करते हुए 2014 में हुए विवाह को शून्य घोषित करने की मांग की गई है।

Powered by Blogger.