MP : 22 साल की इंजीनियर ने लगाई फांसी : मां-बाप काम से लौटे तो घर में लटकी मिली बेटी, दिसंबर में भाई की शादी के लिए ड्रेस भी खरीदी थी...

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

इंदौर के श्रद्धा सबूरी कॉलोनी में 22 साल की सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने फांसी लगा ली। घटना के वक्त वह घर पर अकेली थी। मां-बाप काम पर गए थे। दोनों रविवार देर शाम घर लौटे तो बेटी फंदे पर मिली। युवती की नोएडा में जॉब लग गई थी। अगले महीने ही उसे जॉइन करना था। उसने दिसंबर में होने वाली भाई की शादी के लिए नई ड्रेस भी खरीदकर लाई थी।

कामिनी के पिता जयराम यादव एक बिल्डिंग में चौकीदार हैं। मां घरों में काम करती है। दोनों ने तीन बच्चों के साथ यहां 12 साल से रह रहे हैं। कुछ समय पहले युवती के रिश्ते को लेकर भी बात चल रही थी। बिल्डिंग के अध्यक्ष महेश कोचलानी के मुताबिक कुछ दिन से कामिनी के डिप्रेशन में होने की बात सामने आई है। इस कारण को लेकर पुलिस ने जांच की बात कही है। द्वारकापुरी पुलिस के मुताबिक कामिनी ने कुछ दिन पहले नोएडा की कंपनी में इंटरव्यू दिया था। उसका सिलेक्शन हो गया था। उसे जनवरी में नोएडा जाना था। वह यहां जाने की तैयारी कर रही थी।

भाई की शादी के लिए ड्रेस भी खरीदी थी

कामिनी के बड़े भाई शुभम की दिसंबर में शादी थी। शादी के लिए वह नई ड्रेस भी खरीदकर लाई थी। शुभम की निमाड़ में शादी पक्की हुई है। परिवार में छोटा भाई सत्यम है, जो मार्केटिंग काम करता है। श्रद्धा सबूरी कॉलोनी में एक साल पहले ही घर बनाया था, जहां रहने आए थे। पुलिस ने कामिनी का मोबाइल और लैपटॉप जब्त किया है। आत्महत्या के पहले वह लैपटॉप पर ही काम कर रही थी।

Powered by Blogger.