MP : ऑनलाइन हथियारों की खरीद करने वाले गिरोह का पर्दाफाश : वॉटसऐप पर ही सजता था कट्‌टे, पिस्टल, कारतूस का पूरा बाजार, क्वालिटी दिखाने शेयर करते थे वीडियो ....

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


ग्वालियर में सोशल मीडिया के जरिए ऑनलाइन हथियारों की खरीद फरोख्त करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। मामले में गिरोह के सदस्य को मुरार पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वॉटसऐप पर ही हथियारों का पूरा बाजार सजता था। कट्‌टे, पिस्टल, कारतूस दिखाए जाते थे। यही नहीं, क्वालिटी दिखाने के लिए प्रदर्शन के वीडियो भी शेयर किए जाते थे। डिमांड आने पर डील होती थी। आखिर में डिलीवरी कर दी जाती थी।

गिरोह के सदस्य के पास से 2 कट्‌टे, 40 कारतूस मिले हैं। आरोपी का मोबाइल जब पुलिस ने जांचा, तो हैरान रह गई। आरोपी के मोबाइल से मुरार के सदर बाजार में दुकान चलाने वाले भीम चौहान के फोटो पर टिक मार्क कर अन्य युवक को भेजा था। पुलिस ने फिलहाल मामला जांच में लिया है।

मुरार थाना TI शैलेन्द्र भार्गव को सूचना मिली थी कि तिकोनिया मुरार में दो बदमाश किसी वारदात की नीयत से खड़े हैं। पुलिस टीम तत्काल मौके पर पहुंची। पुलिस को देख बदमाश भागने लगे। आखिरकार पीछा करके पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम रोहित उर्फ बॉबी जाटव बताया, जबकि उसका साथी लक्की जाटव भाग गया।

तलाशी में बॉबी के पास से 315 बोर के 2 कट्टे और 40 कारतूस मिले। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि वो यह माल लक्की जाटव से लेता है, लेकिन पुलिस को उसकी बात पर विश्वास नहीं है। पुलिस को शंका है कि वह किसी बड़ी गैंग के संपर्क में है, जिसे वह हथियार और कारतूस सप्लाई करता है।

मोबाइल ने खोले कई राज

पुलिस ने जब बॉबी के मोबाइल को खंगाला, तो उसमें कई तरह के पिस्टल के फोटो मिले। पुलिस को शंका यह भी है कि यह पिस्टलों की भी सप्लाई करता है। ग्राहकों को यह पिस्टल के फोटो डालकर पसंद करवाता है, फिर डील होने पर सप्लाई करता है, क्योंकि जब उसके वॉटसऐप को खोला गया, तो उसमें कई लोगों को उसने पिस्टल, कारतूस व कट्‌टे के फोटो भेजे हैं। कट्‌टे का रेट बता रहा है। साथ ही, उसकी क्वालिटी भी समझा रहा है। जब उससे पूछताछ की, तो उसने बताया कि यह सब लक्की करवाता था। पुलिस इस संबंध में भी पूछताछ कर रही है।

वॉटसऐप पर कुछ लोगों के फोटो भी शेयर किए

आरोपी के मोबाइल पर वॉटसऐप से चौंकाने वाला डेटा मिला है। मुरार के एक भीम चौहान जिस पर कई मामले दर्ज हैं। उसका फोटो बॉबी ने किसी सुरेन्द्र को शेयर किए हैं। दो फोटो हैं इनमें से भीम के फोटो पर टिक मार्क किया गया है। नीचे लिखा है ये है भीम। अब पुलिस इसका भी मतलब समझ रही है। इसके लिए भीम चौहान को भी पुलिस पूछताछ के लिए बुलाएगी।

मुरार थाना TI शैलेन्द्र भार्गव का कहना है कि बदमाश को कट्टे और कारतूस के साथ पकड़ा है। शंका है कि इसके किसी गैंग से सीधे संपर्क हैं। इसके साथी को तलाश किया जा रहा है। कुछ बदमाशों के फोटो को भी टिक कर शेयर किया है। इसका क्या मतलब हो सकता है, यह भी जांच की जा रही है।

Powered by Blogger.