सिंगरौली में 25 से 30 लोगों ने खुलेआम शराब की दुकान में घुसकर लाठी-डंडों से ठेकेदारको जमकर पीटा : 11 आरोपी गिरफ्तार, अन्य फरार

एक तरफ जहां संगठन के द्वारा पूरे देश में नशामुक्ति के लिए अभियान चलाया जा रहा है, लोगों को नशामुक्ति का पाठ पढ़ाया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर संगठन के सदस्य खुलेआम अवैध वसूली व गुंडागर्दी कर रहे हैं। मामला सिंगरौली जिले के बरगवां का है। जहां एक संगठन के 25 से 30 सदस्यों ने एक शराब की दुकान में घुसकर शराब ठेकेदार से मारपीट कर शराब व पैसे लेकर फरार हो गए।

घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बताया जा रहा है कि जिले के बरगवां क्षेत्र में संगठन के द्वारा आरती का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। कार्यक्रम के बाद संगठन के सदस्य एक शराब दुकान में जाकर शराब ठेकेदार से पैसे की मांग करने लगे।

पैसे न दिए जाने पर 25 से 30 लोग आकर खुलेआम शराब की दुकान में घुसकर लाठी-डंडों से ठेकेदार पर जानलेवा हमला कर घायल कर, उसके बाद शराब व पैसे लेकर फरार हो गए। शराब ठेकेदार बृजेश सिंह गंभीर घायल हो गए, जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए घटना में शामिल 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, अन्य फरार बताए जा रहे हैं।

जिले के बरगवां में एक शराब दुकान में एक संगठन के सदस्यों ने दुकान में घुसकर जमकर तोड़फोड़ व मारपीट की। घटना शनिवार की रात 11 बजे की बताई जा रही है।

पुलिस ने बताया कि भगवती मानव कल्याण संगठन के 20 से 25 कार्यकर्ता दो पिकअप वाहन और एक दर्जन से अधिक बाइक में सवार होकर आए और शराब की दुकान में धावा बोल दिया। शराब दुकान में घुसकर ठेकेदार व कर्मचारियों के साथ जानलेवा हमला कर दिया।

इसके बाद दुकान संचालक के बोलेरो वाहन में पत्थरबाजी कर तोड़फोड़ करते हुए क्षेत्र में जमकर उत्पात मचाया और मौके से फरार हो गए। इस घटना में दुकान संचालक बृजेश सिंह सोनू सिंह व संजय यादव गंभीर रूप घायल हो गए, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बृजेश सिंह दुकान संचालक की हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें जिला अस्पताल से लखनऊ के लिए रैफर कर दिया है ।

एक दर्जन हमलावर गिरफ्तार

एसडीओपी राजीव पाठक ने बताया कि इस वारदात को अंजाम देने वाले संगठन के एक दर्जन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बाकी की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

संगठन के कार्यकर्ताओं के द्वारा जिस तरह से शराब की दुकान में घुसकर गुंडागर्दी की गई, उसका पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को जब्त कर लिया है। फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है।

सिंगरौली एसपी बीरेंद्र सिंह ने बताया कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। कोई भी संगठन या व्यक्ति कानून को हाथ में लेता है तो उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। संगठन के लोग खुलेआम अब गुंडागर्दी कर रहे हैं। पुलिस ने अभी तक 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, बाकी की तलाश की जा रही है। 

Powered by Blogger.