REWA : बैंक खाते में आधार संख्या लिंक होने पर ही मिलेगी उपार्जन की राशि

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। खरीफ फसल के लिए धान तथा अन्य अनाजों का उपार्जन पंजीकृत किसानों से आगामी 29 नवंबर से 15 जनवरी 2022 तक किया जाएगा। इसके लिए एफएक्यू धान 1940 रुपये तथा ग्रेड ए धान 1960 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। किसानों को उनके द्वारा पंजीयन में दिए गए बैंक खाते में उपार्जित धान की राशि का भुगतान किया जाएगा। जिले में 113 खरीदी केंद्रों में किसानों से धान का उपार्जन किया जाएगा।

किसानों से सहकारी समितियों के माध्यम से निर्धारित समर्थन मूल्य पर उपार्जन किया जाएगा। किसानों से खरीदे गए धान तथा अन्य अनाजों की राशि का भुगतान उनके द्वारा पंजीयन में दर्ज बैंक खाते में किया जाएगा। इन बैंक खातों में आधार संख्या दर्ज होना अनिवार्य है। बैंक खाते में आधार संख्या लिंक न होने पर उपार्जन की राशि का भुगतान नहीं हो पाएगा। इस संबंध में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कहा है कि शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर धान एवं अन्य अनाजों के उपार्जन में भुगतान के लिए बैंक खाते में आधार सीडिंग अनिवार्य की गई है। रीवा जिले में समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए पंजीयन कराने वाले सभी किसान बैंक खाते में आधार सीडिंग अवश्य कराएं। जिन किसानों के बैंक खाते में पहले से आधार संख्या दर्ज है उन्हें आधार सीडिंग की आवश्यकता नहीं है। किसानों के फसल विक्रय के लिए पंजीयन में दिए गए कम से कम एक बैंक खाते में आधार लिंक होना अनिवार्य है। किसानों के पंजीयन के सत्यापन के समय मोबाइल नंबर तथा आधार संख्या का मिलान किया जा रहा है।

आधार सीडिंग के लिए किसान द्वारा पंजीकृत मोबाइल नंबर पर आधार नंबर का ओटीपी आएगा। इसे दर्ज कराकर आधार सीडिंग की जाएगी। इसी तरह बैंक खाते में दर्ज आधार नंबर का भी सत्यापन किया जा रहा है। इसके लिए किसानों को पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस भेजे जा रहे हैं। कलेक्टर ने कहा है कि सभी पंजीकृत किसान धान की राशि प्राप्त करने के लिए बैंक खाते से आधार सीडिंग तत्काल कराएं जिससे उन्हें फसल का भुगतान प्राप्त करने में किसी तरह की कठिनाई न हो।

Powered by Blogger.