REWA : कलेक्ट्रेट जनसुनवाई में जमकर हंगामा : सुनवाई नहीं हुई तो मचाया बवाल, सलैया में 4 एकड़ जमीन पाने के लिए भटक रहा है वृद्ध

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा कलेक्ट्रेट में जनसुनवाई के दौरान मंगलवार की दोपहर जमकर हंगामा हुआ। चर्चा है कि पीड़ित किसान की जमीन पर प्रशासन ने श्मशान घाट बनवाया दिया है। अब उसी जमीन को पाने के लिए वृद्ध अधिकारियों की चौखट दर चौखट आवेदन दे रहा है। पर सुनवाई कहीं नहीं हो रही है।

थक हारकर 2 नवंबर की जनसुनवाई पर पहुंचा। यहां उसने अपनी पीढ़ा कलेक्टर को बताई, लेकिन कलेक्टर ने जांच का आश्वासन दिया। इसी बात को लेकर वृद्ध भड़क गया। वह बाहर आकर रोते हुए चिल्लाने लगा। 30 मिनट तक चले हंगामा के बाद अधिकारियों ने ​पुलिस बुलाकर थाने को सौंप दिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक राघवशरण सिंह (70) निवासी मझिगवां की सिरमौर तहसील अंतर्गत सलैया गांव में 4 एकड़ जमीन है। जहां कुछ हिस्से में प्रशासन ने श्मशान घाट बनवा दिया है। दावा है कि वृद्ध का लड़का मूक बधिर है। जिससे वह यहां-वहां नहीं जा सकता।

अब अपनी जमीन वापस पाने के लिए वृद्ध शासन-प्रशासन के जिम्मेदारों को आवेदन दे चुका है। लेकिन उसकी कहीं भी सुनवाई नहीं हुई है। यहां तक की उसने सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत की थी। फिर भी उसे राहत नहीं मिली।

कलेक्ट्रेट पहुंचा था वृद्ध

बता दें कि वृद्ध राघवशरण सिंह मंगलवार को जनसुनवाई में अपनी फरियाद लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचा था। उसने कलेक्टर इलैयाराजा टी से चर्चा कर पूरी कहानी बताई। ऐसे में कलेक्टर ने जांच कराने का आश्वासन वृद्ध को दे दिया। इसी बात से वृद्ध नाराज हो गया। वह जन सुनवाई कक्ष के बाहर निकलकर तेज तेज चिल्लाते हुए हंगामा करने लगा।

प्रशासन की समझाइश नहीं आई काम

मौके पर मौजूद लोगों की मानें तो वृद्ध आधे घंटे से लेकर पौन घंटे तक हंगामा करता रहा। इस दौरान काफी संख्या में लोग एकत्र हो गए। प्रशासन ने वृद्ध को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वृद्ध समझने को तैयार नहीं हुआ। अंतत: प्रशासन ने पुलिस बुला ली। ऐसे में सिविल लाइन पुलिस पहुंची और वृद्ध को लेकर थाने चली गई। तब कहीं जाकर जिम्मेदारों ने राहत की सांस ली।

Powered by Blogger.