REWA : बड़ा खुलासा : पत्नी की बेवफाई में उठाया था खौफनाक कदम, दो लड़कों ने परिवार को कर दिया था बर्बाद :पत्नी का इस्तेमाल भी किया और पैसे भी ऐंठते रहे...

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा के पनवार थाना प्रभारी हीरा सिंह की पत्नी की हत्या के बाद पुलिसकर्मी के सुसाइड मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। थाना प्रभारी का सुसाइड नोट शहडोल पुलिस के हाथ लगा है। इसमें पत्नी के लव ट्राएंगल की बात सामने आई है। डायरी के एक पन्ने पर हीरा ने लिखा है- मैं उससे (वाइफ) प्यार करता हूं, इसलिए (वाइफ की) जान ले रहा हूं और दे भी रहा हूं।

सुसाइड नोट में गांव के दो लड़कों का जिक्र है। दोनों थाना प्रभारी की पत्नी को ब्लैकमेल कर रहे थे। हीरा ने लिखा है कि दोनों लड़कों ने उनकी पत्नी और परिवार को बर्बाद कर दिया है। दोनों मेरी पत्नी से रुपए भी ऐंठते रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, जब पूरी बातें सब इंस्पेक्टर हीरा सिंह (38) को पता चली तो वह पत्नी को समझा कर सही तरह से रहने की बात कही थी, लेकिन इसी बात को लेकर पत्नी चार-पांच दिन से बात नहीं कर रही थी।

ऐसे में परेशान थाना प्रभारी अपने मकान मालिक के मोबाइल पर फोन कर अपने बेटे-बेटी से बात करते थे। फिलहाल डायरी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। इधर, सिटी कोतवाली पुलिस दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है। संभवत: सोमवार की शाम तक FIR दर्ज कर ली जाएगी।

जांच के दौरान मिली डायरी

शहडोल पुलिस रविवार को घटनास्थल की जांच के दौरान किराए के कमरे से एक डायरी मिली थी। इसके एक पन्ने में सब इंस्पेक्टर हीरा सिंह द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट मिला, हालांकि पुलिस ने सुसाइड नोट को सार्वजनिक नहीं किया है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, हत्या और सुसाइड से पहले हीरा ने लिखा है- मैं अपनी पत्नी से बहुत प्रेम करता हूं, परिवार की मर्जी के खिलाफ जाकर शादी की थी, लेकिन उन दो लड़कों ने उसे और परिवार को बर्बाद कर दिया है। दोनों मेरी पत्नी से पैसे भी ऐंठते रहे हैं। मैं अभी भी अपनी पत्नी से बहुत प्यार करता हूं। इसी प्यार के चक्कर में जान ले रहा हूं और जान दे रहा हूं। -हीरा। 

बताया जा हा है कि घटना से कुछ मिनट पहले ही हीरा सिंह ने यह बात लिखी थी।

थाना प्रभारी ने पत्नी की हत्या कर सुसाइड किया:घरेलू झगड़े में सर्विस रिवॉल्वर से पत्नी को गोली मारी, फिर खुद की कनपटी पर किया फायर

तीन दिन पहले अनूपपुर से शहडोल आई थी पत्नी

मोहल्ले में चर्चा थी कि अनूपपुर जिले के खमरिया गांव से तीन दिन पहले ही पत्नी रानी सिंह (33) अपने बच्चों के साथ आई थी। इसके बाद से वह बीमार थी। ऐसे में ज्यादा समय तक घर के भीतर ही रहती थी। इस दौरान मकान मालिक से लेकर मोहल्ले के आसपास के लोगों से उसका कोई संपर्क नहीं था।

14 साल पहले हुई थी शादी

​रिश्तेदारों का दावा है कि 14 साल पहले हीरा सिंह ने अनूपपुर जिले के खमरिया गांव के दूसरे मोहल्ले में रहने वाली रानी सिंह से प्रेम विवाह किया था। हाल ही के कुछ माह पहले तक सब कुछ ठीक था, लेकिन धीरे धीरे रिश्ते में कड़वाहट आ गई थी।

दो बार मकान मालिक के फोन से हुई थी बात

पुलिस की पूछताछ में ये बात सामने आई है कि घटना के एक दिन पहले शुक्रवार को हीरा सिंह ने मकान मालिक को फोन किया था। तब मकान मालिक ने बच्चों से बात कराई थी। घटना वाले दिन शनिवार को भी सुबह 8 बजे के आसपास भी हीरा सिंह ने मकान मालिक को फोन किया था। इसके बाद हीरा ने बच्चों का हाल चाल जाना था। फिर खुद वे 12 बजे किराए के मकान पहुंच गए थे।

माता-पिता का कई साल पहले हो चुका है निधन

जानकारों ने बताया कि सब इंस्पेक्टर हीरा सिंह के माता-पिता का निधन वर्षों पहले हो चुका था। वह अपने पिता के इकलौते बेटे थे, जबकि दो तीन बहनों की शादी बहुत पहले ही हो चुकी थी। वे अपने-अपने घर में है। परिवार की ओर से इस केस में कोई सामने नहीं आ रहा था, इसलिए जांच में देरी हुई है।

आज होगा अंतिम संस्कार

शहडोल सिटी कोतवाली थाना प्रभारी रत्नाम्बर शुक्ला ने बताया कि रविवार को पहले जिला अस्पताल में पीएम की तैयारी की गई थी, लेकिन वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर पोस्टमॉर्टम कराने के लिए मेडिकल कालेज दोनों की डेड बॉडी भेजी गई थी। ऐसे में रविवार की शाम हो गई थी। ऐसे में सोमवार को मृतक सब इंस्पेक्टर हीरा सिंह और उनकी पत्नी का शव गृह ग्राम अनूपपुर जिले के खमरिया गांव भेजा गया है।

Powered by Blogger.