एक बार फिर T20 WC भारतीय टीम के ट्रॉफी जीतने का सपना टूटा : अफगानिस्तान को हराकर न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में बनाई जगह, 2007 के बाद नहीं जीता है टी-20 WC

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


T20 WC: टीम इंडिया का टी-20 वर्ल्डकप 2021 जीतने का सपना टूट गया है. रविवार को खेले गए एक अहम मुकाबले में न्यूजीलैंड ने अफगानिस्तान को मात दे दी है, इसी के साथ न्यूजीलैंड सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चौथी टीम बन गई है. अगर इस मैच में अफगानिस्तान की जीत होती, तब टीम इंडिया के लिए कोई चांस बन सकता था.

लेकिन अब भारतीय टीम का सफर इस वर्ल्डकप में खत्म हुआ और सोमवार को होने वाला नामीबिया के खिलाफ मैच अब एक औपचारिकता मात्र है. टी-20 वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में अब ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान, न्यूजीलैंड-इंग्लैंड के बीच जंग होगी. 

टीम इंडिया के लिए बुरा सपना रहा ये वर्ल्डकप

आईपीएल के तुरंत बाद जब टी-20 वर्ल्डकप की शुरुआत हुई, तब टीम इंडिया को इसे जीतने का दावेदार माना जा रहा था. क्योंकि भारतीय खिलाड़ी लंबे वक्त से यूएई में थे, इसके अलावा प्रैक्टिस मैच में शानदार खेल देखने को मिला था. हालांकि, जब टूर्नामेंट शुरू हुआ तब पूरा खेल ही पलट गया. टीम इंडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला ही मैच गंवा दिया. किसी भी वर्ल्डकप में पाकिस्तान के हाथों भारत की ये पहली हार थी.

पाकिस्तान ने टीम इंडिया को 10 विकेट से मात दी, तो अगले ही मैच में न्यूजीलैंड ने भी 8 विकेट से हरा दिया. दो बड़ी हार के साथ ही टीम इंडिया के टूर्नामेंट में बने रहने का संकट जारी था. हालांकि, भारतीय टीम ने वापसी की और स्कॉटलैंड, अफगानिस्तान को बड़े अंतर से हराया. लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी.

टी-20 वर्ल्डकप 2021 में भारत का सफर:

पाकिस्तान ने 10 विकेट से हराया

न्यूजीलैंड ने 8 विकेट से हराया

अफगानिस्तान को 66 रनों से हराया

स्कॉटलैंड को 8 विकेट से हराया

पहले वर्ल्डकप से ही ट्रॉफी का है इंतजार

साल 2007 में जब टी-20 वर्ल्डकप का आगाज हुआ था, तब टीम इंडिया इसकी पहली चैम्पियन बनी थी. उसी के कुछ वक्त बाद आईपीएल शुरू हुआ तो लगा कि इस फॉर्मेट में भारतीय टीम का दबदबा रहेगा. लेकिन 2007 के बाद से अभी तक टीम इंडिया दोबारा टी-20 वर्ल्डकप नहीं जीत पाई है और इस बार भी ये मौका चूक गया है. 

टीम इंडिया 2007 में चैम्पियन बनी थी, 2014 में रनर-अप बनी थी और 2016 में सेमीफाइनल तक पहुंच पाई थी. इस बार टीम इंडिया सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच पाई है. टीम इंडिया ने 2007 का वर्ल्डकप महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में जीता था, 2021 के टी-20 वर्ल्डकप में एमएस धोनी बतौर मेंटर टीम इंडिया के साथ जुड़े थे. 

बिना ट्रॉफी लौटेंगे कप्तान विराट कोहली

विराट कोहली का बतौर टी-20 फॉर्मेट में कप्तान के तौर पर ये आखिरी टूर्नामेंट था. इस वर्ल्डकप की शुरुआत से पहले ही विराट कोहली ने ऐलान किया था कि वह टी-20 फॉर्मेट में भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ देंगे. अब जब ये तय हो गया है कि भारत सेमीफाइनल में नहीं पहुंच रही है, तब नामीबिया के खिलाफ विराट कोहली टी-20 फॉर्मेट में आखिरी बार भारतीय टीम की कप्तानी करते हुए दिखेंगे.

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम कोई भी आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाई है. अब वर्ल्डकप के बाद जल्द ही कोई नया व्हाइट बॉल फॉर्मेट का कप्तान मिल सकता है. Live TV

Powered by Blogger.