MP : कालेजों और विश्वविद्यालय में आज से ONLINE कक्षाएं बंद : विद्यार्थियों की सौ प्रतिशत उपस्थित अनिवार्य

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

इंदौर। कोरोना संक्रमण को लेकर शासन ने प्रतिबंध खत्म कर दिया है। अब शैक्षणिक संस्थानों में विद्यार्थियों को आफलाइन पढ़ाया जाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने तत्काल प्रभाव से संस्थानों को आनलाइन कक्षाएं बंद करने के लिए कहा है। कालेज और विश्वविद्यालय में सौ प्रतिशत विद्यार्थियों की उपस्थित अनिवार्य है।

सोमवार से ज्यादातर कालेजों में विद्यार्थियों को बुलाया गया है। अन्य शहरों में रहने वाले छात्र-छात्राएं अभी नहीं आए हैं, क्योंकि हास्टल में इनके रहने की व्यवस्था नहीं हुई है। हालांकि सरकारी कालेजों में 50 प्रतिशत से ज्यादा विद्यार्थी उपस्थित रहने की उम्मीद है।

विभाग की तरफ से कालेजों को 18 नवंबर को आदेश मिल चुका है, जिसमें आफलाइन कक्षाओं के अलावा हास्टल-मेस का संचालन भी शुरू करने को कहा गया है। हालांकि गाइडलाइन के बारे में अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है। इसके चलते सरकारी हास्टल में विद्यार्थियों को कमरे आवंटित नहीं किए गए हैं।

संबंधित विभाग से जानकारी मांगी जा रही है। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय में छात्र-छात्राओं के नौ हास्टल हैं, जिनमें 2200 छात्र-छात्राएं रह सकते हैं। सोमवार को हास्टल से जुड़े मुद्दे पर चीफ वार्डन डा. जीएल प्रजापति ने बैठक बुलाई है। मेस संचालन को लेकर भी रूपरेखा बनाई जाएगी।

चीफ वार्डन डा. प्रजापति के मुताबिक हास्टल को लेकर पहले गाइडलाइन आई थी, जिसमें एक कमरे में एक विद्यार्थी को रखा जाएगा। अगर ऐसा करते हैं तो बहुत कम विद्यार्थियों को हास्टल सुविधा मिलेगी। वैसे विश्वविद्यालय के हास्टल में कमरे काफी बड़े हैं, जहां दो-दो विद्यार्थियों को ठहराया जा सकता है।

विभागाध्यक्ष देंगे अनुमति

विश्वविद्यालय के हास्टल में छात्र-छात्राओं को अगले सप्ताह से कमरे आवंटित किए जाएंगे। इसके लिए विद्यार्थियों को अपने-अपने विभागाध्यक्षों से अनुमति लेनी होगी। इस आधार पर हास्टल में ठहर सकेंगे।

Powered by Blogger.