REWA : सैनिक ने मां-बाप को गोली मारकर फैलाई सनसनी : पिता के दोनों पैरों में धंसी गोली, पुलिस के हरकत में आते ही तीन घंटे के भीतर ही गिरफ्तार

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

मां-बाप को गोली मारकर सनसनी फैला देने वाले सैनिक को तीन घंटे के भीतर ही गिरफ्तार कर लिया गया था। पुलिस के मुताबिक लौर थाना अंतर्गत पिडरिया गांव में मंगलवार की शाम 6 बजे सेना के जवान अभिषेक पाण्डेय (29) ने अपने पिता अंबिका पाण्डेय (52) और माता शीला पाण्डेय (48) को लाइसेंसी 12 बोर की बंदूक से दो-तीन फायर कर दिए। इस वारदात में पिता के दोनों पैरों में गोली धंसी है।

जबकि मां के हाथ और पैर पर गोली के गहरे जख्म है। सेना के जवान द्वारा फायरिंग की घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। जहां मां-बाप को एंबुलेंस की मदद से सिविल अस्पताल मऊगंज में दाखिल कराया। लेकिन गोली के गहरे जख्मों को देखते हुए मंगलवार की रात करीब 10 बजे​ चिकित्सकों ने रीवा के संजय गांधी स्मृति हास्पिल रेफर कर दिया है।

थाना प्रभारी की जुबानी घटना की असली कहानी

लौर थाना प्रभारी उपनिरीक्षक मनोज गौतम ने बताया कि पिडरिया गांव निवासी 29 वर्षीय अभिषेक पाण्डेय 6 साल पहले आर्मी में भर्ती हुआ था। समीपी ग्राम मटियरा में पांच साल पहले उसका विवाह हो गया था। जिसके 2 साल का बेटा था। लेकिन 8 माह पहले वह सेना से लौटा तो वापस नहीं ​गया। घर वालों का दावा है कि उसका मानसिक संतुलन बीते कई माह से सही नहीं चल रहा था। अक्सर कुछ न कुछ हरकतें करता रहता था। जिससे घर वाले परेशान रहते थे।

परिजन करा रहे थे टोना-टोटका व झाड़फूक

अभिषेक की हरकतों से परेशान पिता अंबिका पाण्डेय और माता शीला पाण्डेय पहले शुरूआत में झाड़फूक कराया था। लेकिन जब आराम नहीं हुआ तो टोना-टोटका कराने लगे। इस बीच समय-समय पर विभिन्न गुनियों का सहारा लिए। लेकिन कोई खास फायदा नहीं हुआ। परिवार के सदस्य कई बार अभिषेक को मंदिरों ले जाकर देवी-देवताओं का प्रसाद खिलाकर तहबीज भी दी थी। पर हर जगह निराशा ही हाथ लगी।

शाम को हिस्सा बांट को लेकर पिता से लड़ने गला

घायल पिता ने मऊगंज अस्पताल में पुलिस को दिए बयान में बताया है कि वह शाम के समय जमीन को लेकर विवाद कर रहा था। उसने कहा कि हमारा हिस्सा बांट कर दो। लेकिन उसकी मानसिक स्थित और बहू-पोते को देखते हुए ऐसा नहीं किया। कुछ देर बाद उसके अंदर सनक सवार हो गई। वह कमरे के अदंर गया और 12 बोर की लाइसेंसी बंदूक निकालकर हमारे ऊपर तान दिया। देखते ही देखते दो गोली मार दी। मां बीच बचाव करने दौड़ी तो उसको भी गोली मारकर जख्मी कर दिया।

भाग गया था ससुराल

वारदात के बाद आरोपी सैनिक लाइसेंसी बंदूक लेकर अपनी ससुराल मटियरा चला गया था। इधर मां-बाप को गोली मारने की घटना के बाद लौर पुलिस हरकत में आ गई। एक टीम घायलों को लेकर मऊगंज अस्पताल पहुंची। जबकि दूसरी टीम आरोपी के गिरफ्तारी में लग गई। वारदात को लेकर लौर थाना प्रभारी ने आला अधिकारियों को अवगत कराया। इसके बाद कुछ गांव वालों ने बताया कि आरोपी सैनिक बंदूक को लेकर ससूराल की ओर गया है। जहां उसको घेराबंदी कर बंदूक सहित गिरफ्तार कर लिया गया है।

Powered by Blogger.