cruise drugs case : महाराष्ट्र सरकार के एक बड़े मंत्री ने लगाए आरोप, आर्यन केस में एक और ट्विस्ट

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

क्रूज ड्रग्स केस पर चल रहे विवाद के बीच महाराष्ट्र के एक बीजेपी नेता मोहित कंबोज ने कई चौंकाने वाले दावे किए हैं. मोहित कंबोज ने कहा है कि इस पूरे मामला का मास्टरमाइंड सुनील पाटिल है, जो NCP से जुड़ा है. इतना ही नहीं, कंबोज ने  ये भी कहा कि महाराष्ट्र सरकार में एक मंत्री इस पूरे सिंडिकेट को चला रहे हैं. 

ड्रग्स केस को लेकर एनसीबी (NCB) और समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर लगातार निशाना साध रहे महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक पर ये पलटवार माना जा रहा है. नवाब मलिक ने इस मामले में मोहित कंबोज पर भी आरोप लगाए थे.

मोहित कंबोज ने कहा, '' देश में 2 अक्टूबर के बाद एक विवादित मामला आर्यन खान ड्रग्स केस चर्चा में है. महाराष्ट्र सरकार के एक बड़े मंत्री ने आरोप लगाए. इस मामले में नवाब मलिक ने 6 अक्टूबर को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा पर आरोप लगाया कि वह इसमें शामिल है. लेकिन मैं इस मामले में सच सामने ला रहा हूं.'' 

मोहित कंबोज ने किरण गोसावी की आर्यन खान के साथ फोटो दिखाई. उन्होंने कहा, ये फोटो सबने देखी होगी. भाजपा को इस मामले में ये कहकर खींचा जा रहा है कि किरण गोसावी भाजपा का कार्यकर्ता है. कंबोज ने कहा, इस मामले में सुनील पाटिल मास्टरमाइंड है. वह धुले का रहने वाला है और एनसीपी से 20 सालों से जुड़ा है. 

कंबोज ने आरोप लगाया कि सुनील पाटिल अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश देशमुख का दोस्त है. सुनील पाटिल 1999 से 2014 तक महाराष्ट्र में गृह मंत्रालय के साथ मिलकर पोस्टिंग में ट्रांसफर को लेकर रैकेट चलाता है. जब से राज्य में सरकार बदली, वह दोबारा एक्टिव हो गया. 

उन्होंने कहा, सुनील पाटिल ने 1 अक्टूबर को सैम डिसूजा को फोन किया और एनसीबी अधिकारी से संपर्क करने के लिए कहा. 2 अक्टूबर को सैम डिसूजा को बताया कि किरण गोसावी एनसीबी से बात करेगा. कंबोज ने पूछा कि एनसीपी नेता को इस ड्रग्स पार्टी के बारे में कैसे पता चला. 

कंबोज ने सुनील पाटिल की एक कथित ऑडियो क्लिप सुनाई. उन्होंने दावा किया कि इसमें सुनील पाटिल का नाम है, जो मौजूदा और पूर्व गृह मंत्री का नाम ले रहा है. वह बता रहा है कि कैसे उसने काम किया. सुनील पाटिल सिंडिकेट चला रहा है. 

नवाब मलिक से मांगा जवाब

उन्होंने कहा, इस मामले में भाजपा और किसी भाजपा नेता का कोई संबंध नहीं है. यह पूरी साजिश भाजपा को बदनाम करने के लिए रची गई. एनसीपी को सुनील पाटिल से अपने संबंधों के बारे में बताना चाहिए. सुनील पाटिल एक बड़े होटल में रुका था, वहां कौन से एनसीपी नेता थे, जो उससे मिलने गए थे. नवाब मलिक को जवाब देना चाहिए. 

जनवरी में एनसीबी ने ड्रग पैडलर चिंकू पठान को गिरफ्तार किया था. वह दाऊद का आदमी है. उसके पास से हथियार और पैसा भी बरामद हुआ था. चिंकू पठान स्टेट गेस्ट हाउस में रुका था. यहां उनसे मिलने पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख मिलने गए थे. वहां एक मंत्री का दामाद भी मौजूद था. यहां सुनील पाटिल भी था.

कंबोज ने कहा, किरण गोसावी कस्टडी में है और उसका बयान सामने नहीं आया है. नवाब मलिक को सुनील पाटिल के साथ अपने रिश्तों के बारे में बताना चाहिए. वह कहां है, ये सिर्फ महाराष्ट्र सरकार को पता है. मलिक को मंत्री रहने का कोई अधिकार नहीं है. 

कंबोज ने आरोप लगाया कि नवाब मलिक उनके खिलाफ गलत केस लगा सकते हैं. उन्होंने कहा, मेरी जान को भी खतरा हो सकता है.

 नवाब मलिक ने कहा- कल करूंगा खुलासा

मोहित कंबोज के दावों के बाद तुरंत नवाब मलिक का ट्वीट आया. उन्होंने लिखा, ''समीर दाऊद वानखेड़े की प्राइवेट आर्मी के एक सदस्य ने गुमराह करने और सच्चाई से ध्यान भटकाने के लिए अभी प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. मैं कल सच्चाई का खुलासा करूंगा.''

यानी अब वार-पलटवार एनसीपी नेता नवाब मलिक और बीजेपी नेता के बीच हो रहे हैं.

नवाब मलिक की बेटी ने गोसावी की फोटो की शेयर

नवाब मलिक की बेटी ने भाजपा नेताओं के साथ किरण गोसावी की फोटो शेयर की. हालांकि, कंबोज ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, यह डिजिटल दुनिया है, कोई भी किसी के साथ फोटो खींच सकता है. उनकी भी कई नेताओं के साथ फोटो है. उन्होंने कहा था, सुनील पाटिल और गोसावी ने जानबूझकर भाजपा नेताओं और मंत्रियों के साथ फोटो खिंचवाई, जबकि वे एनसीपी में थे.

Powered by Blogger.