REWA : स्कूल से लौटे छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत : रात में उपचार के दौरान मौत, परिजनों ने लगाया साथियों पर हत्या का आरोप, बवाल की आशंका पर तैनात रहा 5 थानों का बल

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में स्कूल से लौटे छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक 11वीं कक्षा का छात्र दोपहर में स्कूल से लौटकर घर आया था, लेकिन तबियत बिगड़ने पर शाम को अस्पताल ले जाया गया। जहां रात में उपचार के दौरान मौत हो गई।

परिजनों ने साथियों पर हत्या का आरोप लगाते हुए अस्पताल में बवाल मचाना शुरू किया। रात किसी तरह गुजरी तो सुबह एहतियातन 5 थानों का पुलिस बल मौके पर मौजूद रहा। जहां परिजनों को समझाइश देते हुए पीएम कराया गया। इसके बाद पुलिस ने अंतिम संस्कार कराकर राहत की सांस ली।

चाकघाट थाना प्रभारी उपनिरीक्षक प्रवीण उपाध्याय ने बताया कि गुरुवार की दोपहर 2 बजे सेंटमैरी स्कूल के प्रबंधक ने शैलेन्द्र सिंह निवासी ​चदई खटिया को सूचना दी। कहा कि आपका 17 वर्षीय बालक यशवर्धन सिंह शराब पीकर स्कूल आया है।

शराब पीने के कारण उसके 11वीं कक्षा के छात्र डरे सहमे हुए है। ऐसे में आप आए और अपने बालक को लेकर जाएं। स्कूल प्रबंधन से मिली सूचना के बाद पिता विद्यालय पहुंचे। जो अपने बेटे को लेकर घर चले आए। लेकिन घर में शाम 6 बजे अचानक से तबियत खराब हुई। ऐसे में तुरंत बच्चे को लेकर त्योंथर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे।

उपचार के दौरान मौत

पु​लिस की मानें तो जैसे ही चिकित्सकों ने रात 7 से 8 बजे के बीच उपचार शुरू किया। वैसे ही छात्र यशवर्धन सिंह की मौत हो गई। तुरंत घटना की सूचना चाकघाट पुलिस को दी। जानकारी के बाद अस्पताल पुलिस पहुंची तो परिजन स्कूल प्रबंधन व साथियों पर हत्या का आरोप लगाने लगे।

बवाल की आशंका पर तैनात रहा 5 थानों का बल

सूत्रों की मानें तो शुक्रवार की सुबह 10 बजे यशवर्धन सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत को लेकर ग्रामीण सहित परिजन आक्रोशित हो गए। ऐसे में बवाल की आशंका व सुरक्षा-व्यवस्था के मद्देनजर एहतियात के तौर पर 5 थानों का पुलिस बल त्योंथर अस्पताल बुलाया गया।

छाबनी में तब्दील रहा त्योंथर अस्पताल

त्योंथर एसडीओपी समरजीत सिंह ने मौर्चा संभालते हुए चाकघाट थाना प्रभारी प्रवीण उपाध्याय के साथ सोहागी थाना प्रभारी अभिषेक पटेल ​सहित जवा, डभौरा, पनवार और अतरैला थाने का बल मौजूद रहा। सूत्रों का दावा है कि शुक्रवार की सुबह 11 बजे परिजनों की मौजूदगी में पीएम कराया गया। इसके बाद दोपहर 2 बजे अंतिम संस्कार करा दिया गया।

पीएम रिपोर्ट बताएगी मौत का कारण

पुलिस के आला अधिकारियों ने बताया कि चाकघाट थाने में मर्ग कायम कर दिया गया है। जैसे ही परिजनों का आरोप है कि शराब के साथ जहर दिया गया था। ये आगे की कहानी पीएम रिपोर्ट आने के बाद क्लियर होगी। वहीं पुलिस स्कूल प्रबंधन से लेकर साथियों के भूमिका की जांच कर रही है।

Powered by Blogger.