रीवा चोरहटा हत्याकांड : आरोपी मृतक की पत्नी पर रखता था बुरी नजर, गुस्से में अंजनी ने की थी गाली गलौज,शराब पिलाकर पेट्रोल से जलाया : दोनों आरोपी गिरफ्तार

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

 

रीवा शहर के चोरहटा थाना अंतर्गत उद्योग विहार स्थित विजय राइस मिल के पीछे भूसी में मिले अधजले शव का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो इस हत्याकांड को दो आरोपियों ने मिलकर अंजाम दिया था। एक आरोपी को पहले ही दिन गुढ़ स्थित रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार कर लिया गया था। जबकि दूसरा आरोपी तीसरे दिन पकड़ में आया है। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने जुर्म कबूल किया है। साथ ही आरोपियों के कब्जे से बाइक क्रमांक एमपी 17 एमजे 9003 बरामद कर ली गई है।

दावा है कि मृतक अंजनी साकेत (38) निवासी वार्ड क्रमांक-4 खैरा पुरानी बस्ती की पत्नी पर आरोपी मंजा साकेत पुत्र रामनरेश साकेत (20) निवासी खैरा पुरानी बस्ती बुरी नजर रखता था। ऐसे में घटना वाले दिन आरोपी मंजा साकेत अंजनी के घर में पहुंचा था। तब अंजनी ने आरोपी के साथ गाली-गलौज की थी। ​इसी बात से गुस्सा होकर पड़ोस में रहने वाला मुख्य मंजा समझाइश देकर पार्टी में बुलाया।

इस बीच गांव के महेन्द्र सिंह को अपने प्लान में शामिल कर सूनसान जगह पर ले गया। जहां पर तीनों ने बैठकर शराब पी। फिर कुछ दूर जाकर एक दुकान में तीनों अंडा खाए। यहीं मंजा पीछे से मृतक पर पत्थर से हमला कर दिया। जैसी वह बेहोस हुआ तो पटककर कई प्रहार किए। जब वह मर गया था तो विजय राइस मिल के पीछे ले गया।

भूसी में पेट्रोल डालकर लगा दी आग

वारदात के बाद आरोपीगण मृतक को भूसी के पास लेटा दिए। इसके बाद बाइक से पेट्रोल निकालकर मृतक के ऊपर उढ़ेल दिया। जब चेहरा जल गया तो साक्ष्य छिपाने के लिए भूसी ऊपर से डाल दी। हालांकि दोनों आरोपी मृतक को पूरी तरह से जलाना चाह रहे थे। लेकिन आग नहीं लग रही थी। ऐसे में अधजला शव छोड़कर मृतक की बाइक से मंजा गुढ़ भाग गया। जबकि दूसरा आरोपी महेन्द्र सिंह पुत्र सुग्रीव सिंह (21) निवासी उमरिया थाना शाहनगर जिला पन्ना हाल निवास सिरमौर चौराहा किराये के मकान में जाकर सो गया।

अंडा दुकान चलाने वाले से पुलिस को मिला इनपुट

चर्चा है कि अंजनी साकेत की हत्या के बाद पुलिस एक आरोपी मंजा साकेत को चिहिन्त कर लिया था। लेकिन दूसरे आरोपी का इनपुट अंडा दुकान संचालक से पता चला है। पुलिस की विवेचना में अंडा वाले ने बताया था कि सोमवार की रात तीन लोग अंडा खाए थे। जिसमे मृतक अंजनी साकेत, दूसरा मंजा साकेत और तीसरा आदमी महेन्द्र सिंह था। ऐसे में गुरुवार की दोपहर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Powered by Blogger.