Google पर फर्जी नंबर अपडेट, सर्च न करें : महिला बाल विकास विभाग की पर्यवेक्षक के बैंक खाते से 3 लाख 70 हजार निकाले, गूगल पर सर्च कर लगाया था फोन

आईसीआईसीआी बैंक की फर्जी कस्टमर केयर वेबसाइड बनाकर ऑन लाइन फ्रॉड करने वाले व्यक्ति ने पिपलौदा में महिला बाल विकास विभाग की पर्यवेक्षक के बैंक खाते से 3 लाख 70 हजार रुपए निकाल लिए। बैंक अकाउंट से 1 लाख 70 हजार रुपए और अकाउंट से लिंक एफडी से 2 लाख रुपए गए हैं। पिपलौदा थाने में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है।

नई आबादी पिपलौदा निवासी भावना पति मुकेशकुमार मोरवाल ने पुलिस को बताया इंदौर में पढ़ाई कर रही बेटी की फीस भरने के लिए इंदौर की पंजाब नेशनल बैंक के खाते में 11 दिसंबर को 21 हजार रुपए ट्रांसफर किए थे। शुभम सर ने बताया खाते में रुपए नहीं पहुंचे। अगले दिन गूगल से आईसीआईसीआई बैंक का कस्टमर केयर सर्च किया तो हेल्पलाइन का नंबर (9093892236) मिला। मोबाइल नंबर पर संपर्क किया तो बात करने वाले ने खाता नंबर, ट्रांजेक्शन एप्लिकेशन और क्रेडिट कार्ड की वैलिडिटी पूछी। जानकारी देने के बाद अकाउंट से रुपए कटने मोबाइल पर मैसेज आने लगे। कुल 15 ट्रांजेशन में आरोपी ने 3 लाख 70 हजार रुपए निकाल लिए।

गुगल पर सर्च न करें, ट्रांजेक्शन एसएमएस में नंबर लिखा रहता है

इस तरह की धोखाधड़ी के प्रति जागरूकता के लिए पिछले दिनों एसपी ऑफिस में बैंक तथा पेमेंट गेटवे के अधिकारियों की हुई बैठक में बैंक उपभोक्ताओं के लिए एडवाईजरी (परामर्श) जारी किया है।

पेमेंट गेटवे पर रुपयों के लेनदेन संबंधित शिकायत के लिए गुगल पर नंबर सर्च नहीं करें। सायबर फ्रॉड करने वालों ने फर्जी हेल्पलाइन बना रखी हैं। एप्लिकेशन (एप्प) में हेल्प डेस्क पर दिए नंबर पर ही शिकायत दर्ज करवाएं या पूछताछ करें।

हर ट्रांजक्शन की जानकारी एसएमएस से मिलती है। यदि आपके साथ गलत ट्रांजक्शन हुआ है तो प्राप्त एसएमएस में दिए हेल्प लाइन पर कॉल कर तुरंत ही ट्रांजक्शन को ब्लॉक करवा सकते हैं।

Powered by Blogger.