MP : जश्न पर कन्फ्यूजन : NEW YEAR सेलिब्रेशन की गाइडलाइन का इंतजार, गार्डन और पप्पू में नहीं हो रही बुकिंग


इंदौर में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम में न्यू ईयर सेलिब्रेशन की गाइडलाइन उलझ गई है। क्रिसमस से ईयर एंडिंग तक होने वाले जश्न पर भीड़ को खुली छूट रहेगी या रोक-टोक होगी, यह न तो पुलिस तय कर पा रही है और न ही जिला प्रशासन। धारा 144 के तहत अब तक किसी प्रकार के आदेश जारी नहीं हो सके हैं। होटल-रेस्टोरेंट, पब, क्लब या ओपन स्पेस की गाइडलाइन नहीं आने के चक्कर में अधिकतर बुकिंग शुरू नहीं कर पाए हैं। यदि ऐनवक्त पर गाइडलाइन जारी हुई तो मुश्किलें बढ़ जाएंगी। इंदौर के पुलिस कमिश्नर हरिनारायणचारी मिश्र ने कहा कि दो दिन के बाद आदेश निकाला जाएगा। होटल संचालकों से आयोजन की जानकारी मांगी गई है।

इंदौर में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम लागू हो चुका है और अधिकांश मामलों में धारा 144 लगाने के पॉवर पुलिस के पास पहुंच गए हैं। कुछ मामलों में कलेक्टर आदेश जारी कर सकते हैं। बावजूद अब तक न्यू ईयर सेलिब्रेशन को लेकर गाइडलाइन जारी नहीं हो पाई है, जबकि पार्टी स्पेस की बुकिंग के लिए बहुत ही कम समय बचा है।

अब तक नहीं जारी हुई गाइडलाइन

ओमिक्रॉन को लेकर कई देशों में लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। इंदौर में कोरोना के इस नए वैरियंट का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। नाइजीरिया से आए दो लोगों में ओमिक्रॉन होने की आशंका है। जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट दिल्ली से आनी है। सिर्फ रिपोर्ट के इंतजार में अधिकारी हैं। शायद फिर जिला प्रशासन और पुलिस कमिश्नर की गाइडलाइन जारी हो।

कई होटलों में अब तक कोई जश्न की तैयारी नहीं

इंदौर शहर के मध्य भाग में लगभग 20 से 25 बड़े होटल हैं। अब तक सभी होटल संचालकों ने जश्न की बुकिंग न करने की बात कही है। इंदौर के बायपास वाले इलाकों में कुछ गार्डन और क्लबों में जश्न हो सकता है, लेकिन गाइडलाइन और बुकिंग न मिलने क वजह से अब तक कोई तैयारी नहीं हुई है।

इंदौर के विजयनगर, भंवरकुआं, कनाडिया जैसे इलाकों में कुछ बड़े होटल गार्डन और क्लब हैं। होटल और गार्डन संचालकों ने किसी भी बड़ी बुकिंग से होने से मना किया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वीकेंड और संडे यहां पर वैसे ही बहुत अधिक जश्न का माहौल देर रात सड़कों पर दिखाई देता है। 31 को यदि व्यक्ति भी जश्न न भी मनाए तो सप्ताह के अंत में उसी तरह का नजारा शहर में कई जगह दिखाई देता है।

पुलिस कमिश्रर निर्णय लेंगे: अपर कलेक्टर

कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद लोन ऑर्डर की जितनी भी परमिशन थी वह अब कमिश्नर सर तय करेंगे वर्तमान में यदि कोविड-19 बढ़ते हैं तो उसे फिर जिला प्रशासन अपने स्तर पर देखेगा लेकिन अभी तक परमिशन को लेकर पुलिस प्रशासन ही उसमें आगे कोई निर्णय ले सकता है।

पवन जैन, अपर कलेक्टर, इंदौर

दो दिन में आदेश निकालेंगे: पुलिस कमिश्नर
अभी शहर के सभी थानों से सूची मंगाई गई है। पुलिस ने उनसे पूछा है कि क्या कोई बड़ा आयोजन आपके यहां होने वाला है। 2 दिन के बाद आदेश निकाले जाएंगे।

हरिनारायणचारी मिश्र, पुलिस कमिश्नर
Powered by Blogger.