MP : छेड़छाड़ करने वाले युवक को महिलाएं और पुरुष ने आधा नंगा कर सड़क पर दौड़कर पीटा फिर निकाला जुलूस

ग्वालियर में एक युवक को कुछ लोगों ने जमकर पीटा है। पीटने वालों में कुछ महिलाएं और पुरुष थे। इन्होंने युवक को आधा नंगा कर सड़क पर दौड़ाया, उसका जुलूस निकाला। इतना ही नहीं उसे सरियों और लोहे के पाइप से पीटा गया। हमलावरों ने युवक के वीडियो भी बनाए और कहते गए इन्हें सोशल मीडिया पर वायरल करेंगे। पीटते हुए हमलावर बार-बार कह रहे थे और खबर छापेगा। इस समय पुलिस की गाड़ी भी वहां से निकली, लेकिन पुलिसवालों ने थोड़ी देर वहीं खड़े होकर तमाशा देखा और आगे निकल गए। घटना बुधवार शाम पाटनकर का बाड़ा जनकगंज का है।

कुछ ही देर बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आ गए। युवक को पीटने वालों में कुछ क्षेत्र के सटोरिए और बदमाश दिख रहे हैं। घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसके हाथ और पैर टूट गए हैं। घायल ने एक दिन पहले उसी क्षेत्र के पुलिस अफसर के खिलाफ एक आर्टिकल लिखा था। हालांकि पुलिस अफसरों का कहना है कि घायल की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कर लिया है। पर इससे पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल जरुर खड़े होते हैं।

बुधवार शाम ग्वालियर में सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो सामने आए हैं। वीडियो में एक युवक की डंडे से पिटाई करने और अर्धनग्न करके उसका जुलूस निकाला जा रहा है। उसे नंगा कर पीटने वाले कह रहे हैं कि आज तो तेरे पर तीन छेड़छाड़ के मामले दर्ज कराएंगे। इतना ही नहीं मारपीट करने वालों मंे कुछ महिलाएं भी हैं। जब पता किया तो वीडियो में पिटने वाला युवक गोल पहाड़िया इलाके में रहने वाला जयप्रकाश मौर्य बताया गया है। जहां यह मारपीट और कानून की धज्जियां उड़ी हैं वह जनकगंज का पाटनकर साहब का बाड़ा है। पुलिस के अनुसार जयप्रकाश के खिलाफ पूर्व में एक महिला ने छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया था। बुधवार को उस महिला और उनके साथियों ने पीछा करने की आशंका के चलते जयप्रकाश की जमकर पिटाई लगाई और अर्धनग्न कर उसे मोहल्ले में घुमाया। वायरल वीडियो में पुलिस की वैन घटना स्थल से निकलती दिख रही है, बाबजूद इसके जयप्रकाश को पुलिस ने मारपीट कर रहे लोगों के चंगुल से नहीं छुड़ाया गया। हालांकि सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंचने और युवक को हमलावरों के चंगुल से मुक्त कराकर थाने लाने और उसका मेडिकल कराकर 5 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने की बात जरूर कह रही है। जिनमें दो महिलाएं और तीन पुरुष शामिल हैं, जो फिलहाल फरार बताये गए हैं।

पुलिस देखती रही तमाशा

इस मामले में लोग युवक को पीटते रहे और वीडियो बनाते रहे। उसे नंगा कर बेरहमी से सरियों से पीटा गया था। पुलिस वहां से गुजरी और खड़े होकर तमाशा देखती रही। पुलिस को देखकर भी हमलावर नहीं रुके। जिससे ऐसा लगा मानो उन्हें पुलिस का सरंक्षण प्राप्त हो। बच्चों, महिलाओं और पुरुषों ने मारपीट की और वीडियो बनाए।

पुलिस का कहना

इस मामले में जनकगंज थाना प्रभारी संतोष यादव का कहना है कि घायल युवक के खिलाफ पहले से छेड़छाड़ का मामला दर्ज है और वह जेल होकर भी आया है। बुधवार को फिर उसी महिला के पास वह पहुंचाा। महिला ने उसे फिर छेड़छाड़ करने के आरोप लगाते हुए मारपीट की है। इससे लोग आक्रोशित हो गए और उसे पीटने लगे। पुलिस ने हमलावरों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया है।

Powered by Blogger.