हज यात्रा पर Omicron का साया : नई गाइड लाइन ने बढ़ा दिया शुल्क; 2022 की यात्रा होगी सबसे महेंगी

दो साल से निरस्त चल रही हज यात्रा पर इस बार ओमिक्रॉन का साया मंडराने लगा है। लेकिन अगर हज यात्रा होती भी है तो यह काफी महंगी होगी। कोविड प्रोटोकॉल के चलते अरब सरकार ने वीजा शुल्क के साथ ही वैट में भी बढ़ोत्तरी कर दी है। इससे हज जाने वाले आजमीनों को 1 लाख रुपये अधिक खर्च करने पड़ सकते हैं। यानी इसका असर सीधा आजमीनों की जेब पर पड़ेगा।

सूत्रों की माने तो साउदी अरब सरकार ने हज यात्रा महंगी होने के संदेश सरकार और हज कमेटी आफ इंडिया को दे दिए हैं। लेकिन हज कमेटी ऑफ इंडिया ने अभी हज खर्च के इस बढ़े रुपयों को खर्च में नहीं जोड़ा है। बताया जाता है कि जल्द ही इसको जोड़ दिया जाएगा और हज पर जाने वाले आजमीनों को यह बता दिया जाएगा। जिससे कि जो लोग हज पर जाने की तैयारी कर रहे हैं वे अतिरिक्त रुपये की व्यवस्था कर लें।

नई गाइड लाइन ने बढ़ा दिया शुल्क

हज कमेटी ऑफ इंडिया के मुताबिक कोरोना वायरस के चलते इस बार हज वीजा शुल्क, वैट, हेल्थ इंश्योरेंस, सऊदी अरब में रिहाइश का किराया व सेवा शुल्क में बढ़ोत्तरी की गई है। सूत्रों की माने तो इस बढ़े शुल्क के कारण हज यात्रा एक लाख से 1.25 लाख रुपए तक महंगी हो जाएगी।

इस संबंध में स्टेट हज कमेटी के हज सचिव राहुल गुप्ता ने बताया कि, हज यात्रा 2022 के खर्च को लेकर हज कमेटी ऑफ इंडिया ने अपनी गाइडलाइन में अभी संभावित हज खर्च की घोषणा की है। अभी तक खर्च की सीमा तय नहीं हुई है। नई गाइडलाइन जारी होने के बाद ही हज यात्रा के कुल खर्च की घोषणा की जाएगी।

Powered by Blogger.