REWA : कलेक्टर गाइडलाइन : अप्रैल माह से प्लॉट या फ्लैट खरीदना महंगा : 2022-23 में शहर से लेकर गांव तक के प्रापर्टी के दाम हो जाएंगे महंगे

वित्तीय वर्ष 2022-23 में रीवा जिला अंतर्गत शहर से लेकर गांव तक के प्रापर्टी के दाम महंगे हो जाएंगे। सूत्री की मानें तो अगले वित्तीय वर्ष में कलेक्टर गाइडलाइन वास्तविक बाजार मूल्य पर पहुंच सकती है। ऐसे में अप्रैल माह से प्लॉट या फ्लैट खरीदना महंगा हो जाएगा। ऐसे क्षेत्रों में कलेक्टर गाइडलाइन की दर बढ़ाने पर फोकस किया जा रहा है। जो नए मास्टर प्लान में औद्योगिक या निवेश क्षेत्र बनने जा रहे हैं।

कलेक्टर इलैयाराजा टी ने उप जिला मूल्यांकन समितियों को नए वित्तीय वर्ष में कलेक्टर गाइडलाइन कि दर प्रस्तावित करने के निर्देश हैं। समितियों को कहा है कि नगरी निकाय एवं जनपद पंचायत सहित सम्मिलित विभागों से समन्वय स्थापित कर गाइडलाइन तैयार करें।

31 दिसंबर तक समितियों को प्रस्तावित गाइड लाइन जिला मूल्यांकन समिति को सौंपने के लिए कहा है। जिससे जनवरी माह में आगे की तैयारी शुरू की जा सके। चर्चा है कि उन क्षेत्रों में कलेक्टर गाइड लाइन की दर बढ़ सकती है। जहां अधिक मात्रा में प्लाटिंग हो रही है। या फिर कालोनियां विकसित हो रही हैं।

गुढ़ क्षेत्र पर नजर

उप पंजीयक कार्यालय दर बढ़ाने के लिए गुढ़ तहसील पर नजर रखे है। क्योंकि गुढ़ में कलेक्टर दर कम है। यहां कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां कलेक्टर गाइडलाइन वास्तविक बाजार मूल्य से काफी कम है। इसी तरह जवा के वार्ड क्रमांक 5 एवं 15 पर भी फोकस है। क्योंकि यहां काफी संख्या में रजिस्ट्री होती है। इसी तरह मऊगंज एवं नईगढ़ी हाईवे से जुड़े स्थानों पर दर बढ़ाने की तैयारी की जा रही है

शहर के समीपी गांवों पर फोकस

जिला उप पंजीयक कार्यालय द्वारा जो नई कलेक्टर गाइडलाइन तैयार की जा रही है उसमे शहर से सटे ग्रामीण क्षेत्रों पर विशेष नजर रखी जा रही है। वजह यह है कि इन क्षेत्रों में प्रॉपर्टी की खरीदारी ज्यादा संख्या में हो रही है। कुल मिलाकर इन क्षेत्रों में भी अगले वित्तीय वर्ष में कलेक्टर गाइडलाइन की दर बढ़ाई जाएगी।

Powered by Blogger.