REWA : फर्नीचर व्यापारी से ठगी का मामला : सस्ते दाम में पाइप बेचने का झांसा देकर बदमाश ने ठगे 30 हजार रुपए, आवेदन लेकर SP से लगाई गुहार

रीवा शहर के सिविल लाइन थाना अंतर्गत बांसघाट का व्यापारी व्हाट्सएप में मैसेज के जरिये फ्रॉड का शिकार हो चुका है। फर्नीचर दुकान संचालित करने वाले व्यापारी की मानें तो सोशल मीडिया के माध्यम से आरोपी ने सस्ते दाम में पाइप बेचने की बात कही थी। मैं उसके झांसे में आकर 30 हजार रुपए खाते में ट्रांसफर कर दिए। इधर डिलवरी डेट पर पाइप नहीं मिला तो मोबाइल में संपर्क किया।

ऐसे में बदमाश का फोन नहीं रिसीव हुआ। जब ठगी का अहसास हुआ तो थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। हालांकि पुलिस ने शिकायत तो दर्ज कर ली। पर आज दिनांक तक आरोपी गिरफ्तार नहीं हुआ। अंतत: धक हारकर एसपी के पास शिकायत लेकर पहुंचा हूं। उम्मीद है कि एसपी ही पैसा वापस दिला सकते है।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे फरियादी रविशंकर विश्वकर्मा निवासी बांसघाट ने एसपी नवनीत भसीन के नाम लिखे शिकायती आवेदन में कहा कि वर्षों पहले उसकी सोशल मीडिया के माध्यम से एक युवक ने दोस्ती की थी। धीरे-धीरे आरोपी मैसेज आदान-प्रदान करने लगा।

आरोपी के इरादे से अंजान होकर उसने अपने प्रोफेशन के बारे में बता दिया था। ऐसे में कब मैं आरोपी के झांसे में आ गया, मुझे पता ही नहीं चला। उसने सस्ते दामों में मिल रही पाइप का लालच देकर 30 हजार रुपए ठग लिए।

व्हाट्सएप में लिंक भेजकर बहकाया

पीड़ित व्यापारी ने बताया कि बीते दिनों आरोपी ने मुझे व्हाट्सएप में लिंक भेजकर बहकाया था। सस्ते दाम में पाइप बेचकर अच्छी कमाई का लालच दिया। आरोपी की बातों में आकर उसके खाते में 30 हजार रुपएए डाल दिए। लेकिन पैसा पाते ही आरोपी कुछ दिन बाद टालने लगा।

ठगी का अहसास होने पर शिकायत के बाद भी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है। ऐसे में पुलिस अधीक्षक के पास शिकायत लेकर पहुंचा हूं। हालांकि एसपी द्वारा साइबर सेल की मदद से जल्द कार्रवाई की बात कही गई है।

Powered by Blogger.