REWA : शिक्षा जगत में हड़कंप : APS यूनिवर्सिटी प्रशासन ने विदाई और सम्मान समारोह में डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर लगाए मुर्दाबाद के नारे

मध्यप्रदेश के रीवा में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह से रिटायरमेंट के दिन विदाई समारोह में बदसलूकी का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। जवाब में अफसर ने यही कहा कि धन्यवाद, थैंक्यू।

विश्वविद्यालय की गरिमा को तार-तार करने वाला वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षा जगत में हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि जब इस मामले में कुलपति और डिप्टी रजिस्ट्रार से बात करने की कोशिश की गई तो वह फोन नहीं रिसीव किए।

डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह 30 नवंबर को सेवानिवृत्त हुए। ऐसे में APS यूनिवर्सिटी प्रशासन ने विदाई और सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम यूनिवर्सिटी के बीआर माथुर सभाकक्ष में आयोजित हुआ, लेकिन समारोह का कर्मचारी यूनियनों ने बहिष्कार किया था। ऐसे में विदाई समारोह के बाद सेवानिवृत्त डिप्टी रजिस्ट्रार कुलपति कक्ष में गए थे। तभी गैलरी में कर्मचारी यूनियन के लोग घेर लिए।

छिपा कर रखी थी जूतों की माला

दावा है कि डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह कुलपति कक्ष से निकलकर बाहर आए। इसी बीच गैलरी में यूनियन के अध्यक्ष बुद्धसेन पटेल सहित एक दर्जन कर्मचारी खड़े थे। तभी गेट के पीछे छिपाकर रखी जूतों की माला को उठाकर बुद्धसेन पटेल ने दुआ सलाम करते हुए पहनाने की कोशिश की। डिप्टी रजिस्ट्रार धन्यवाद कहकर आगे बढ़ गए।

जमकर लगे मुर्दाबाद के नारे

चर्चा है कि जूतों की माला पहनाने की कोशिश के बाद बदसलूकी पूर्ण रवैये कर्मचारियों का यहीं नहीं रूका। बल्कि यूनियन के अध्यक्ष बुद्धसेन पटेल के कहने पर संगठन के अन्य लोग जमकर जारेबाजी में मशगूल रहे। सभी पदाधिकारी लाल सिंह मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए जमकर शोर मचाया।

कर्मचारी विरोधी होने का आरोप

सेवानिवृत डिप्टी रजिस्ट्रार 20 साल तक APS यूनिवर्सिटी में तैनात रहे हैं। उन पर शु​रुआत से ही कर्मचारी विरोधी होने का आरोप लगते आए हैं। यही वजह है कि उनकी विदाई समारोह में अन्य कर्मचारी संगठन नहीं शामिल हुए। बल्कि बेआबरू होकर उपकुलसचिव को विदा करने के लिए मजबूर कर दिया।

Powered by Blogger.