REWA : अवैध सुट्टाबार The High Tribe पर पुलिस ने मारा छापा : सुट्टा संचालकों में मचा हड़कंप

       

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट )  रीवा। आपको जानकारी के लिए बता दें कि रीवा में ऐसे कई अवैध सुट्टाबार हैं जहां पर शाम होते ही सुट्टा प्रेमियों का जमावड़ा लगता है वही आपको दूसरी और बता दें की असामाजिक तत्वों द्वारा शाम होते ही आए दिन सुट्टा लेने के बाद चाल बदल जाती है और वह चाल सड़कों पर मारपीट, लूट, हत्या के रूप में दिखाई देती है। देर रात सुट्टा के कई संस्थानों पर पुलिस की ताबड़तोड़ कार्यवाही देखने को मिली है जहां रीवा के कई सुट्टा संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है। इस बड़ी कार्यवाही से सुट्टा संचालकों का नहीं लगा राजनीतिक जोर। प्रशासन, पुलिस व आबकारी की टीम ने एक साथ मारी मारी रेड है जहाँ भारी मात्रा में हुक्का गुड़गुड़ाते लोग मिले है। 

सिविल लाइन थाना प्रभारी अवनीश पांडेय ने बताया कि जांच के दौरान हुक्का संचालन सम्बन्धी कोई दस्तावेज होटल संचालक के पास मौजूद नही था। महानगरों की तर्ज पर वह बिना लाइंसेंस के ही हुक्का बार संचालित कर रहा था। वही निकोटिन अधिनियम का उल्लधन पाया गया है। जिसके चलते मामला दर्ज करके कार्रवाई की गई है।

कलेक्टर एसपी के निर्देश पर हुई कार्यवाई, संचालक की नही च पाई  राजनीतिक रसूक

वही आपको बता दे की रीवा में कई ऐसे बड़े सुट्टा संस्थान है जहां शाम ढलते ही बड़े बड़े सुट्टा प्रेमियों द्वारा सुट्टा लिया जाता है। अब देखना यह है कि इस बड़ी कार्यवाही के बाद आने वाले समय में सुट्टा प्रेमियों पर प्रशासन द्वारा किस तरह की लगाम लगाई जाती है और इस सुट्टे का सुट्टा लेते ही नव युगल को क्या मजा आता है यह तो प्रशासन ही बताएगा, वहीं दूसरी ओर होटल रेस्टोरेंट के नाम पर कई ऐसे संस्थान है जहां सुट्टे की आड़ में कई तरह की चीजों का आदान प्रदान किया जाता है, कुछ जानकारी के लिए बता दें कि पूर्व में भी सुट्टा को लेकर रीवा न्यूज़ मीडिया ने एक खबर प्रकाशित की थी जिस पर सुट्टे को लेकर प्रशासन का ध्यान आकर्षित किया गया था वहीं आज एक बार फिर नए साल को देखते हुए प्रशासन ने देर रात एक बड़ी कार्यवाही की है, इस कार्रवाई से सुट्टा संचालकों समेत कई होटल रेस्टोरेंट में हड़कंप मचा हुआ है अब देखना यह है कि इन सुट्टा प्रेमियों पर प्रशासन कितना अंकुश लगा पाती है यह तो आने वाला समय ही बता पाएगा।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.