SIDHI : अजीबो-गरीब मामला : बहू ने संपत्ति के लालच में अपने ही सास- ससुर पर किया जानलेवा हमला, सास-ससुर बुरी तरह से घायल : मामला दर्ज कर जांच शुरू

नगरपालिका सीधी में अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। जहां बहू ने संपत्ति के लालच में अपने ही सास और ससुर पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला कर दिया। जहां बुजुर्ग सास के हाथ-पैर जगह-जगह कट गए हैं। कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पूरा मामला सिटी कोतवाली अंतर्गत कोतरकला वार्ड 2 का है। वहीं बुजुर्ग साथ-ससुर ने आरोप लगाया कि होली के दिन हमारे बेटे की भी हत्या कर दी हमारी बहू ने थी और एक्सीडेंट का रूप दे दिया था। जहां यह बात खुद मेरी बहू ने कबूली की है। फिलहाल कोतवाली पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 294,323,506 के तहत आरोपी बहू के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ शुरू कर दी है।

ये है पूरा मामला

सिटी कोतवाली अंतर्गत कोतरकला निवासी मंगल प्रसाद गुप्ता स्व. पिता स्वर्गीय शंभू प्रसाद गुप्ता (56) अपनी बुजुर्ग पत्नी शशि प्रभा के साथ रहते हैं। जहां आरोपी बहू सुशीला गुप्ता ने ससुर और सास को संपत्ति अपने नाम करवाने के लिए गाली-गलौज करती थी।

ससुर ने आरोपी बहू से बोले कि सास को गाली मत दो। जहां आरोपी बहू सुशीला गुप्ता के द्वारा पीड़ित के बताए अनुसार वृद्ध सास पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। जहां बुजुर्ग सास-ससुर बुरी तरह से घायल हो गए हैं। पीड़ित बुजुर्ग दंपती ने बताया कि मेरी बहू सुशीला गुप्ता घर में नए-नए लड़के तथा लड़कियों को लाकर घर के अंदर गलत काम करवाती है।

जहां मैं मना किया था बहू ने हम दोनों को घर से निकाल रही है और पूरी संपत्ति अपने नाम करवाने को लेकर जानलेवा हमला किया।

कोतरकला निवासी बुजुर्ग दंपती मंगल प्रसाद गुप्ता ने आरोप लगाया कि मेरी बहू सुशीला गुप्ता मेरे इकलौते बेटे राजू गुप्ता की होली के दिन हत्या कर दी है। यह बात खुद अपने मुंह से मेरी बहू ने कबूली की है। आरोप है कि आरोपी बहू सुशीला गुप्ता का किसी और के साथ अफेयर चल रहा है, जिसके वजह से मेरे बेटे को रास्ते का कांटा समझ कर हत्या कर दी है और एक्सीडेंट का रूप दे दिया था।

जहां ड्राइवर और गवाह ने बताया कि हमको पैसा देकर झूठी गवाही आपकी बहू ने दिलवाई थी। हमारे द्वारा ना तो किसी का एक्सीडेंट किया गया है और ना तो हम कुछ देखे एवं सुने हैं। हमें आरोपी सुशीला गुप्ता उसका भाई प्रदीप गुप्ता बहन अनीता गुप्ता ने पैसा देने का लालच दिए थे।

ड्राइवर ने खुलासा करते हुए बताया कि आरोपी सुशीला गुप्ता अपने पति की हत्या पहले ही कर दी थी। मुझे बस यह बोली कि मेरी गाड़ी एक्सीडेंट हो गई है। ड्राइवर बन जाओ, गाड़ी की जमानत हो जाएगी। जहां धोखे में रखकर गाड़ी की जमानत करवाकर बेच दी है।

बुजुर्ग मंगल प्रसाद गुप्ता ने बताया कि मेरी बहू घर में लड़के लड़कियों को लाकर गलत काम करवाती है तथा इसका किसी और के साथ अफेयर है। जहां यह संपत्ति अपने नाम करने को बोलती है और घर छोड़कर जाने के लिए दबाव बनाती है एवं आए दिन मारपीट करती है।

बीते 4 दिसंबर को आरोपी सुशीला गुप्ता के द्वारा सुबह 8 बजे सात एवं ससुर को जमकर पीटा गया था। जहां दोनों बुजुर्ग कोतवाली पहुंचकर आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी है। एफआईआर के बाद जैसे ही बुजुर्ग घर गए तब फिर से धारदार हथियार से हमला कर दिया।

बुजुर्ग दंपती फिर से कोतवाली पहुंचे और कोतवाली पुलिस को अपनी फरियाद सुनाने लगे आरोपी के द्वारा एक ही दिन में बुजुर्ग दंपतियों की चार बार पिटाई की है।

सीधी एसपी पंकज कुमावत ने बताया कि बुजुर्ग दंपती के साथ बहू के द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आया है जहां एफआईआर कोतवाली में दर्ज की गई है। वहीं अग्रिम कार्रवाई जारी है।

Powered by Blogger.