VIPIN RAWAT DEATH : खुलेगा कुन्नूर हादसे का राज, ब्लैक बॉक्स खोजने में लगी थी 25 लोगों की स्पेशल टीम, सामने आया हादसे से ठीक पहले का वीडियो

नई दिल्ली। तमिलनाडु ( Tamil Nadu ) के कुन्नूर में सेना के Mi-17V5 हेलिकॉप्टर क्रैश ( Helicopter Crash ) होने के बाद से ही इस घटना को लेकर कई सवाल उठने लगे थे। इस हादसे में देश ने अपने पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ( CDS Bipin Rawat ) को खो दिया। इस हादसे के बाद से ही विमान में मौजूद ब्लैक बॉक्स ( Black Box ) की तलाश की जा रही थी, ताकि इस हादसे से जुड़ी कुछ अहम जानकारियां हासिल की जा सकें। हादसे के 20 घंटे बाद सेना को कामयाबी मिली है।

जिस ब्लैक बॉक्स की तलाश की जा रही थी वो मिल गया है। माना जा रहा है कि ब्लैक बॉक्स के जरिए हादसे की वजहों से लेकर अंतिम क्षणों को पायलट के बीच हुई बातचीत समेत कई अहम सवालों का जवाब मिल सकता है। ब्लैक बॉक्स मिलने के साथ ही एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। ये वीडियो हादसे से ठीक पहले का बताया जा रहा है।

दुर्घटनाग्रस्त होने वाले भारतीय वायु सेना ( IAD ) के एम 17 हेलिकॉप्टर का डेटा रिकॉर्डर गुरुवार सुबह मिल गया। इस हेलिकॉप्टर क्रैश में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और 11 अन्य सशस्त्र कर्मियों की जान चली गई है।

इस बीच निदेशक श्रीनिवासन के नेतृत्व में तमिलनाडु फोरेंसिक साइंस डिपार्टमेंट की एक टीम कुन्नूर में कैटरी के पास दुर्घटनास्थल पर पहुंची। इस दौरान पहले से मौजूद वायुसेना की टीम ने हेलिकॉप्टर के ब्लैक बॉक्स को बरामद कर लिया है। इस ब्लैक बॉक्स के जरिए पता चल पाएगा कि आखिरी वक्त पर क्या हुआ।

देखे क्रैश का पूरा वीडियो 

ब्लैक बॉक्स हेलिकॉप्टर की अंतिम उड़ान स्थिति और अन्य पहलुओं के बारे में जानकारी सामने लाएगा।

दरअसल यह बॉक्स उड़ान डेटा और कॉकपिट वार्तालापों को रिकॉर्ड करता है, हेलिकॉप्टर के अवशेषों की फोरेंसिक जांच से यह भी पता चल सकता है कि क्या दुर्घटना के बाहरी कारण थे।

ब्लैक बॉक्स खोजने में लगी थी 25 लोगों की स्पेशल टीम

ब्लैक बॉक्स की अहमियत को इसी से समझा जा सकता है कि इसे खोजने के लिए 25 लोगों की स्पेशल टीम को लगाया गया था। विंग कमांडर आर. भारद्वाज के नेतृत्व में वायु सेना के अधिकारियों की 25 स्पेशल टीम ने ब्लैक बॉक्स बरामद कर लिया है।

बताया जा रहा है कि टीम सुबह से ही तलाशी अभियान चला रही थी। इससे पहले हादसे के बाद को बुधवार को प्राथमिकता शवों की तलाश और उन्हें वेलिंगटन आर्मी अस्पताल पहुंचाने की थी।

सामने आया हादसे से ठीक पहले का वीडियो

न्यूज एजेंसी की ओर से एक वीडियो जारी किया गया है। इसमें दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो सीडीएस जनरल बिपिन रावत के उसी Mi-17 हेलिकॉप्टर का है, जो हादसे का शिकार हो गया।

इसे एक पर्यटक ने बनाया, हेलिकॉप्टर घने कोहरे के बीच दिखाई दे रहा है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो हादसे से कुछ मिनट पहले का है।

Powered by Blogger.