रीवा में विकास का 2022 : महानगरों की तर्ज पर होगा विकास : माखनलाल विश्वविद्यालय उद्घाटन के लिए तैयार, मोहनिया घाटी का आवागमन होगा शुरू; चौथे फ्लाईओवर का सर्वे पूरा

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

विंध्य का रीवा महानगरों की तर्ज पर विकास कर रहा है। नया वर्ष 2022 का सूरज नई उम्मीदों के साथ उदय हुआ है। यहां पहले से चालू प्रोजेक्ट तेजी से चल रहे है। अनुमान है कि ज्यादातर अधूरे कार्य 2022 तक पूर्ण कर लिए जाएंगे। फिर चाहे मो​हनिया घाटी का आवागन हो। या फिर माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी के नए कैंपस का।

इसी तरह सिरमौर चौहारा फ्लाईओवर की थर्ड लेग व रीवा आरओबी का निर्माण साल के मध्य तक पूर्ण कर लिए जाएंगे। महानगरों की तर्ज पर विकसित करने के लिए रीवा में 25 करोड़ रुपए की लागत से ईको पार्क बन रहा है। वहीं साबरमती की तर्ज पर बीहर नदी का रिवर फ्रंट आकर्षण का केन्द्र होगा।

रीवा मो​हनिया घाटी टनल

नेशनल हाईवे 39 अंतर्गत झांसी से चलकर रांची जाने वाले मार्ग के मोहनिया घाटी की (सुरंग) टनल प्रोजेक्ट का कार्य तय समय से पहले पूर्ण होने जा रहा है। टनक का 80 फीसदी पूर्ण हो चुका है। इस प्रो​जेक्ट को मार्च 2023 में पूरा करना है। लेकिन हम 8 माह पहले जुलाई 2022 तक मोहनिया टनल का कार्य पूरा हो जाएगा। यह टनल रीवा और सीधी के मध्य में बन रही है। जिसकी लागत 1004 करोड़ रुपए है। सड़क लंबाई 13.06 किमी होगी।

माखनलाल विश्वविद्यायल का भवन उद्घाटन के लिए तैयार

रीवा में माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यायल का भवन बनकर तैयार हो गया है। जिसका उद्घाटन फरवरी-मार्च महीने में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हाथों कराया जाएगा। एशिया के पहले पत्रकारिता विश्वविद्यालय का भवन 50 करोड़ रुपए की लागत से बन रहा है। जो 5 एकड़ में फैला हुआ है। यहां देशभर के 10 राज्यों के बच्चे पढ़ाई कर रहे है। पढ़ाने के लिए 6 रेगुलर प्रोफेसर और 14 गेस्ट फैकल्टी नियुक्त है।

सिरमौर चौहारा फ्लाईओवर की थर्ड लेग की राशि स्वीकृत

केन्द्रीय सड़क निधि योजना (सीआरएफ) के तहत केन्द्र सरकार ने सिरमौर चौराहा फ्लाई ओव्हर प्रोजेक्ट के लिए 33.44 करोड़ की राशि स्वीकृति की है। स्वीकृति मिलने के बाद फ्लाई ओव्हर की ड्राइंग और डिजाईन बनाने का काम चल रहा है। दावा है कि मौजूदा वित्तीय वर्ष 2022 में ही सिरमौर चौराहा फ्लाई ओव्हर के थर्ड लेग का निर्माण शुरू हो सकता है।

चौथे फ्लाईओवर का सर्वे पूरा

ढेकहा से कमिश्नर आवास तक चौथे फ्लाईओवर का सर्वे पूरा हो गया है। सेतु निगम के अधिकारियों ने दावा किया है कि 1600 मीटर लंबे फ्लाईओवर के निर्माण में 80 से 90 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसके लिए बजट की व्यवस्था एसआरएस फंड से की जाएगी। भोपाल मुख्यालय भेजे गए प्रस्ताव में फ्लाईओवर की चौड़ाई 12 मीटर रहेगी। मध्य में इसकी ऊंचाई साड़े 6 मीटर निर्धारित की गई है। उम्मीद है कि 2022 के लास्ट तक बजट मिल जाएगा।

रीवा आरओबी का निर्माण होगा पूरा

बता दें कि 34 करोड़ की लागत से रीवा रेलवे मोड़ पर आरओबी का निर्माण किया जा रहा है। यह आरओबी त्रिकोणीय आकार की है। जो रीवा-सतना मार्ग के अलावा स्टेशन की तरफ मुड़ी हुई है। सेतु निगम से जुड़े सूत्रों की मानें तो आरओबी प्रोजेक्ट पहले की पूरा हो जाता। पर सतना की ओर हाईटेंशन लाइन की शिफ्टिंग रुकी है। ऐसे में सतना की तरफ आरओबी का निर्माण रूका हुआ है। संभावना है 2022 दीवाली तक कार्य पूर्ण हो जाएगा।

25 करोड़ रुपए की लागत से बनेगा ईको पार्क

रीवा शहर में बीहर नदी के टापू पर बहुप्रतिक्षित 25 करोड़ का ईका पार्क अप्रैल 2022 तक लोकार्पित हो जाने की पूरी उम्मीद है। इको पार्क बन जाने से यहां पर सैलानी आएंगे। बीहर का टापू सैलानियों के लिए आकर्षण का केन्द्र बनेगा। साथ ही बीहर नदी के चारों ओर विकास के रास्ते ​खुलेंगे।

रीवा में बनेगा रिवर फ्रंट

गुजरात के साबरमती की तर्ज पर रीवा शहर के बीहर नदी में रिवर फ्रंट बनाया जाएगा। जिसकी लागत करीब 26 करोड़ है। जिसके तहत पार्क, वाईकिंग पाथ वे, पार्किंग जोन, पचपठा मंदिर का सौन्दर्यीकरण, फूड प्लाजा, मल्टी प्लेक्स आदि वर्ष 2022 में विकसित किए जाएंगे।

Powered by Blogger.