REWA : धान की अवैध बिक्री से पहले कलेक्टर के निर्देश में संयुक्त टीम ने दी दबिश : 2 लाख से अधिक की 339 बोरियां में 135 क्विंटल धान मिली

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

       

रीवा शहर की करहिया मंडी​ में बनाए गए चोरहटा खरीदी केन्द्र में धान की अवैध बिक्री से पहले कलेक्टर के निर्देश में संयुक्त टीम ने दबिश दी है। बताया गया कि नई बोरी में पुरानी धान भरकर बेंचने की तैयारी चल रही थी। तभी किसी ने फर्जीवाड़े की सूचना कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा को दे दी।

मौके पर पहुँचे अधिकारी 

ऐसे में कलेक्टर ने तुरंत नायब तहसीलदार हुजूर यतीश शुक्ला और नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक संजय सिंह को मौके पर भेजा। जहां संयुक्त टीम को 339 बोरियां में 135 क्विंटल धान मिली है। इसका अनुमानित मूल्य 2 लाख 71 हजार रुपए है।

बोरियों में वर्ष 2018-19 और 2019-2020 का लगा टैग

जांच के दौरान पता चला कि ज्यादातर बोरियों में वर्ष 2018-19 और 2019-2020 का टैग लगा है। लेकिन अब वर्ष 2021-22 का टैग लगी बोरियों में धान भरी जा रही है। परीक्षण के बाद फर्जीवाड़ा सामने आने पर धान को जब्त कर वेयर हाउस में जमा करा दिया गया है।

तीन अन्य के विरूद्ध चोरहटा थाने में एफआईआर दर्ज

वहीं दूसरी तरह कलेक्टर के निर्देश पर समिति प्रबंधक सहित तीन अन्य के विरूद्ध चोरहटा थाने में एफआईआर दर्ज करा दी गई है। करहिया मंडी में धान का फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद अवैध कारोबारियों में हड़कंप मच गया है।

Powered by Blogger.