REWA : 15-18 वर्ष के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू : 272 विद्यालयों में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गये; सिरमौर में 52 तो सबसे कम जवा में 7 केंद्र बने

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में 3 जनवरी की सुबह 9 बजे से 15-18 वर्ष के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। स्वास्थ्य विभाग ने 272 शासकीय व अशासकीय विद्यालयों में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए है। सबसे ज्यादा 52 सेंटर सिरमौर तो सबसे कम जवा में 7 केन्द्र बने है। पहले दिन केन्द्र पहुंचने वाले कई बच्चों में टीकाकरण को लेकर जबरदस्त उत्साह दिखा तो कई बच्चे वेट एंड वॉच की स्थित में है।

अभिभावकों का मानना है कि अभी बच्चों के टीकाकरण का समय काफी शेष है। ऐसे में जिन बच्चों ने वैक्सीन लगवाई है। उनका रिजल्ट देखेंगे। अगर सब कुछ सही रहा तो टीकाकरण के बारे में सोचा जाएगा।

नगर निगम क्षेत्र में 39 विद्यालयों में सेंटर

CMHO डॉ. बीएल मिश्रा ने बताया कि 3 जनवरी से वैक्सीनेशन के लिए त्योंथर ब्लॉक में 31, गंगेव में 17, गोविंदगढ़ में 26, हनुमना में 18, जवा में 7, नईगढ़ी में 30, सिरमौर में 52, मऊगंज में 15 और रायपुर कर्चुलियान ब्लॉक के 37 स्कूलों में टीके लगाये जायेंगे। इसी तरह रीवा नगर निगम क्षेत्र की 39 शासकीय व निजी स्कूलों में केन्द्र बनाया गया है।

1.73 लाख बच्चों को एक सप्ताह में टीका लगाने का लक्ष्य

रीवा में 15-18 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 1 जनवरी से शुरू है। 3 जनवरी से जिले के 1.73 लाख बच्चों को वैक्सीनेशन लगाई जा रही है। जिसमे सबसे ज्यादा 48 हजार शहरी बच्चे शामिल है। जिला प्रशासन के एक सप्ताह के अदंर लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए है।

95% फस्ट और 94.4% लग चुका है सेकेंड डोज

डॉ. बीएल मिश्रा ने बताया कि रीवा जिले 18 से 60 वर्ष के पात्र हितग्राहियों को 95 प्रतिशत प्रथम डोज और 94.4 प्रतिशत द्वितीय डोज लगाई जा चुकी हैं। वहीं 10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मी या गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियों को बूस्टर डोज लगाया जा रहा है। कलेक्टर इलैयाराजा टी ने पात्र बच्चों के अभिभावकों से टीकाकरण कराने की अपील की है।

Powered by Blogger.