REWA : आज से 1.73 लाख बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू : 10 जनवरी से लगेगा बूस्टर डोज; एक सप्ताह के अदंर लक्ष्य पूरा करने के निर्देश

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को लेकर देश-प्रदेश सहित रीवा जिले में 15 से 18 वर्ष के बच्चों को टीका लगाया जाएगा। ऐसे में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 1 जनवरी से शुरू हो गई है। 3 जनवरी से रीवा जिले में 1.73 लाख बच्चों को वैक्सीनेशन किया जाएगा। जिसमे 48 हजार शहरी बच्चे शामिल है। जिला प्रशासन के एक सप्ताह के अदंर लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए है।

बता दें कि जिला प्रशासन के आदेश पर बच्चों के ​टीकाकरण का कार्य स्कूलों में ही किया जाएगा। प्रत्येक ब्लॉक में पहले​ दिन 30 से 40 बूथ बनाएं जाएंगे। सरकारी एवं निजी स्कूलों को इसके लिए चयनित किया जा रहा है। टीकारण के लिए तीन रूम तैयार किए जाएंगे। जिसमे एक वेटिंग रूम, दूसरा वैक्सीनेशन रूम और तीसरा आब्जर्वेशन रूम रहेगा।

टीका के बाद 30 मिनट रूकना होगा

बच्चों के टीकाकरण में निर्देश है कि सभी बच्चों को आधार कार्ड लाना अनिवार्य है। कोविड की डोज लगते ही 15 से 18 साल के बच्चों को वैक्सीनेशन के बाद 30 मिनट तक सेंटर में रोका जाएगा। स्कूलों द्वारा टीका की जानकारी ​अभिभावकों को दी जा रही है। अभिभावकों से कहा जा रहा है कि यदि वे स्वयं टीका के समय पर चाहे तो रह सकते है।

1 जनवरी से आनलाइन पंजीयन शुरू

CMHO डॉ. बीएल मिश्रा ने बताया कि 3 जनवरी से बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए 1 जनवरी से ही पंजीयन शुरु हो गए है। पात्र बच्चों को कोविन पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीयन की सुविधा दी जा रही है। पात्र व्यक्ति ऑनलाइन पंजीयन कराकर पंजीयन संख्या प्राप्त कर ले। ऑनलाइन पंजीयन के द्वारा टीकाकरण का समय और स्थान भी तय किया जा सकता है।

10 जनवरी से लगेगा बूस्टर डोज

प्रदेश सरकार ने हेल्थ वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु के गंभीर रोगों से ग्रस्त लोगों को प्रिकाशन डोज देने का निर्णय लिया है। इन्हें 10 जनवरी से कोरोना वैक्सीन के टीके का तीसरा डोज दिया जाएगा। बूस्टर डोज के लिए वही व्यक्ति पात्र होगा। जिन्होंने वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने के बाद 9 माह अथवा 39 सप्ताह की अवधि पूरी कर ली है।

95% फस्ट और 94.4% लग चुका है सेकेंड डोज

डॉ. बीएल मिश्रा ने बताया कि रीवा जिले 18 से 60 वर्ष के पात्र हितग्राहियों को 95 प्रतिशत प्रथम डोज और 94.4 प्रतिशत द्वितीय डोज लगाई जा चुकी हैं। वहीं 10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मी या गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियों को बूस्टर डोज लगाया जा रहा है। कलेक्टर इलैयाराजा टी ने पात्र बच्चों के अभिभावकों से टीकाकरण कराने की अपील की है।

Powered by Blogger.